• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • COVID-19: सतर्कता के उपायों से चिड़चिड़े हो रहे हैं हवाई यात्री, DGCA उठायेगा ये अहम कदम !

COVID-19: सतर्कता के उपायों से चिड़चिड़े हो रहे हैं हवाई यात्री, DGCA उठायेगा ये अहम कदम !

ऐसे हालात से निपटने के लिए DGCA एयरलाइन्स कर्मचारियों को यात्रियों के साथ व्यवहार की नई ट्रेनिंग देने पर विचार कर रहा है. (सांकेतिक फोटो)

ऐसे हालात से निपटने के लिए DGCA एयरलाइन्स कर्मचारियों को यात्रियों के साथ व्यवहार की नई ट्रेनिंग देने पर विचार कर रहा है. (सांकेतिक फोटो)

कोविड काल (COVID-19) से पहले की हवाई यात्रा और कोविड काल के दौरान की यात्रा में काफी कुछ बदल चुका है. पहले यात्री बिना मास्क, बिना गलव्स और बिना फेस शील्ड के यात्रा करते थे. लेकिन अब कोविड के संक्रमण के कारण यात्री को इन तमाम तामझाम के साथ यात्रा करनी पड़ रही है. लिहाजा वो चिड़चिड़े हाे रहे हैं.

  • Share this:
जयपुर. कोविड काल (COVID-19) से पहले की हवाई यात्रा और कोविड काल के दौरान की यात्रा में काफी कुछ बदल चुका है. पहले यात्री बिना मास्क, बिना गलव्स और बिना फेस शील्ड के यात्रा करते थे. लेकिन अब कोविड के संक्रमण के कारण यात्री को इन तमाम तामझाम के साथ यात्रा करनी पड़ रही है. इससे यात्रियों में रूखापन और चिड़चिड़ेपन की समस्या देखी जा रही है. इसी को ध्यान में रखते हुए DGCA एयरलाइन्स कर्मचारियों को यात्रियों को नए सिरे से हैडल करने के लिए ट्रेनिंग देने पर विचार कर रहा है.

कई यात्री तो पीपीई किट पहनकर यात्रा कर रहे हैं
एयरपोर्ट सूत्रों के मुताबिक मिशन वंदे भारत के तहत विदेश से आना वाली फ्लाइट्स और घरेलू उड़ानों में एयरलाइन्स कर्मचारियों और यात्रियों के बीच झगड़े की खबरें सामने आने लगी है. 8-10 घंटे की विदेश यात्रा के दौरान बिना वेंटिलेशन के जहाज में यात्री के चेहरे पर मास्क, फेस शील्ड, हाथों में गलव्स होते हैं. कई यात्री तो पीपीई किट पहनकर यात्रा कर रहे हैं. लिहाजा उनके व्यवहार में चिड़चिड़ापन आ रहा है.

Rajasthan: पंचायत ही नहीं 129 निकाय चुनाव पर भी छाये संकट के बादल, आयोग ने बुलाई बैठक

कई यात्री अपने व्यवहार पर नियत्रंण नहीं रख पाते
जयपुर एयरपोर्ट डायरेक्टर जेएस बलहारा ने बताया कि ऐसे में कई यात्री अपने व्यवहार पर नियत्रंण नहीं रख पाते और एयरलाइन्स स्टाफ या केबिन-क्रू के साथ झगड़ा कर बैठते हैं. ऐसे हालात से निपटने के लिए DGCA एयरलाइन्स कर्मचारियों को यात्रियों के साथ व्यवहार की नई ट्रेनिंग देने पर विचार कर रहा है ताकि कर्मचारियों और यात्रियों के बीच सामंजस्य बैठाया जा सके. हालांकि जयपुर एयरपोर्ट पर फिलहाल इस तरह की कोई शिकायत अब तक किसी भी यात्री ने एयरपोर्ट अथॉरिटी से नहीं की है.

Rajasthan: डूंगरपुर नगरपरिषद सभापति BJP नेता ने सीएम गहलोत को बताया 'जननायक', जानिये क्या है वजह

ये कारण भी आ रहे हैं सामने
यात्री दम घुटने या सांस संबधी समस्या होने के कारण मास्क पहनने से इंकार कर सकता है. मेडिकल स्क्रिनिंग में लगने वाले समय से यात्री को परेशानी हो सकती है. कोरोना के भय के कारण भी यात्री का व्यवहार आसामान्य हो सकता है. जयपुर एयरपोर्ट डायरेक्टर जेएस बलहारा ने बताया कि ऐसे हालात में केबिन-क्रू को पता होना चाहिए कि इस तरह की समस्यायें सामने आ सकती हैं. ये तमाम वो कारण है जिसके कारण एयरलाइन्स कर्मचारियों और हवाई यात्रियों के बीच विवाद हो सकता है. इन सब परिस्थितियों को हैंडल करने के लिए DGCA का ये कदम सरहानीय है. अगर इस ट्रेनिंग से यात्रियों और कर्मचारियों के बीच तालमेल बैठता है तो कोविड काल की ये यात्रा सुखद हो सकती है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज