Rajasthan: 7 सितंबर से आमजन के लिए खुल जाएंगे सभी धार्मिक स्थल, इन शर्तों का करना होगा पालन
Jaipur News in Hindi

Rajasthan: 7 सितंबर से आमजन के लिए खुल जाएंगे सभी धार्मिक स्थल, इन शर्तों का करना होगा पालन
सीएम गहलोत ने कहा कि धार्मिक स्थलों के संचालन के लिए बनी कमेटी/ट्रस्ट को वहां गाइड लाइन की पालना करवानी होगी.

कोरोना संक्रमण (COVID-19) के कारण लंबे समय से बंद धार्मिक स्थल (Religious place) 7 सितंबर से आमजन के लिये खोल (Open) दिये जायेंगे. सभी धार्मिक स्थलों पर मास्क लगाना और सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) का पालन करना अनिवार्य होगा.

  • Share this:
जयपुर. राजस्‍थान में कोराना संक्रमण (COVID-19) के कारण बंद किए गए मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारे, चर्च और मठ सहित सभी धार्मिक स्थल (Religious place) कुछ विशेष शर्तों के साथ आगामी 7 सितंबर से आम लोगों के लिए खुल जाएंगे. धार्मिक स्थलों पर मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) बनाए रखने सहित कोरोना से बचाव के सभी सुरक्षात्मक उपायों का पालन करना अनिवार्य होगा.

समय-समय पर इन धार्मिक स्थलों को सैनिटाइज करना होगा. संबधित जिला कलेक्टर और एसपी बड़े धार्मिक स्थलों पर जाकर वहां व्यवस्थाएं देखेंगे और यह सुनिश्चित करेंगे कि पर्याप्त सुरक्षा उपाय हों और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सही तरीके से किया जाए. सीएम अशोक गहलोत की अध्यक्षता में बुधवार को कोरोना संक्रमण को लेकर हुई समीक्षा बैठक के दौरान यह बड़ा फैसला किया गया.

Rajasthan : टिड्डियों के बाद अब उनके बच्चाें ने भी डराया, करोड़ाें की तादाद में कर रहे हमला



सीएम ने की आमजन से यह अपील
सीएम गहलोत ने बैठक में निर्देश दिए कि धार्मिक स्थल सहित सार्वजनिक स्थानों पर भीड़ न इकट्ठा हो इसका विशेष ध्यान रखा जाए. वहां हेल्थ प्रोटोकॉल का पूरी तरह पालन किया जाए. सीएम ने आमजन से अपील की है कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए जहां तक संभव हो पूजा, उपासना, प्रार्थना और नमाज घर पर रहकर ही की जाए, ताकि धर्म स्थलों पर भीड़ न जुटे. सीएम गहलोत ने कहा कि जिलास्तर पर जिला प्रशासन यह सुनिश्चित करे कि बड़े मंदिरों में विशेष दिनों पर दर्शनार्थियों की भीड़ नहीं जुटे और सोशल डिस्टेंसिंग की पूरी पालना हो.

गाइडलाइन के अनुसार इन पर रहेगा प्रतिबंध
सीएम गहलोत ने कहा कि भारत सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन के अनुसार प्रसाद, फूलमाला, अन्य पूजा सामग्री ले जाने और घण्टी बजाने पर प्रतिबंध होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज