अपना शहर चुनें

States

Rajasthan: सीएम गहलोत की बड़ी घोषणा, अब 1200 में नहीं 800 रुपयों में होगा कोरोना टेस्ट

सीएम ने कहा कि कोरोना टेस्ट की संख्या बढ़ाएं. कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने की चिंता न करें. राजस्थान में रिकवरी रेट अच्छी है.
सीएम ने कहा कि कोरोना टेस्ट की संख्या बढ़ाएं. कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने की चिंता न करें. राजस्थान में रिकवरी रेट अच्छी है.

COVID-19: राजस्थान में तेजी से पैर पसार रहे कोरोना संक्रमण को देखते हुए सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने शनिवार को बड़ी घोषणा की है. प्रदेश की निजी लैब में अब कोरोना की जांच (Corona test) 1200 की बजाय 800 रुपए में ही होगी.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान में तेजी से पैर पसार रहे कोरोना संक्रमण (COVID-19) को देखते हुए सीएम अशोक गहलोत ने शनिवार को बड़ी घोषणा की है. प्रदेश की निजी लैब में अब कोरोना की जांच (Corona test) 1200 की बजाय 800 रुपए में ही होगी. सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि कोरोना टेस्ट किट की दरें कम हुई हैं. इसलिए हम अब निजी लैब में कोरोना की जांच दरें 1200 रुपए से घटाकर 800 रुपए करेंगे. निजी लैब्स की दरें घटाने के लिए निर्देश दिया जाएगा. सीएम गहलोत ने ये घोषणा आज वर्चुअल लोकार्पण समारोह में की.

सीएम अशोक गहलोत ने आज जयपुर में आरयूएचएस में 70 बेड के कोविड आईसीयू समेत प्रदेश के 6 जिलों में कोविड टेस्टिंग लैब का वर्चुअल लोकार्पण किया. प्रदेश के टोंक, जैसलमेर, हनुमानगढ़, बूंदी, नाथद्वारा और प्रतापगढ़ में कोविड टेस्टिंग लैब स्थापित की गई है. इस अवसर पर सीएम ने जोधपुर के एमडीएच अस्पताल में कैंसर वार्ड और अन्य सुविधाओं का भी लोकार्पण किया.

Rajasthan: अब सीपी जोशी के बयान ने मचाई हलचल, कहा- निर्वाचित लोग ही पार्टियां चलाएं

सब पार्टियां मिलकर काम करें


इस मौके पर सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि कोरोना में सब पार्टियां मिलकर काम करें. जैसी एकता शुरुआत में दिखाई थी वैसी ही अब दिखानी चाहिए. लेकिन पिछले दिनों से पता नहीं क्यों इस पर राजनीति कर रहे हैं. चिकित्सा मंत्री आरयूएचएस के निरीक्षण करने लग गए तो इसे मुद्दा बना दिया. जबकि वे खुद कोरोना संक्रमित थे और इलाज करवा रहे थे. सीएम ने कहा कि कोरोना मरीजों के बीच वे कौनसा कोरोना फैला रहे थे.

कोरोना टेस्ट की संख्या बढ़ाएं
सीएम ने कहा कि कोरोना टेस्ट की संख्या बढ़ाएं. कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने की चिंता न करें. राजस्थान में रिकवरी रेट अच्छी है. मृत्यु दर एक फीसदी से कम है. इसीलिए लोग लापरवाह हो रहे हैं. मास्क लगाना और सोशल डिस्टेंसिंग रखना जरूरी है. हम सब मिलकर ही कोरोना को हरा सकते हैं. दिवाली पर पटाखा बैन का सबने सहयोग किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज