अपना शहर चुनें

States

राजस्थान: सीएम अशोक गहलोत का बड़ा फैसला, प्रदेश में हटाया जायेगा रात्रिकालीन कर्फ्यू

व्यापारियों के प्रतिनिधिमंडल लगातार सरकार से मांग कर रहे थे कि रात्रिकालीन कर्फ्यू को हटाया जाये.
व्यापारियों के प्रतिनिधिमंडल लगातार सरकार से मांग कर रहे थे कि रात्रिकालीन कर्फ्यू को हटाया जाये.

कोरोना के कारण लंबे समय से रात्रिकालीन कर्फ्यू की जद में जकड़ा प्रदेश अब रात्रिकालीन कर्फ्यू (Night curfew) मुक्त होगा. सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने सोमवार को कोविड-19 समीक्षा बैठक में यह बड़ा फैसला किया है.

  • Share this:
जयपुर. कोरोना के कारण लंबे समय से रात्रिकालीन कर्फ्यू (Night curfew) की जद में जकड़े राजधानी जयपुर समेत अन्य सभी शहर अब जल्द ही उससे मुक्त होंगे. सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने सोमवार को कोविड-19 समीक्षा बैठक में यह बड़ा फैसला किया है. सीएम अशोक गहलोत ने ट्वीट (Tweet) इसकी जानकारी दी है.

अपने ट्वीट में सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि प्रदेश में रात्रिकालीन कर्फ्यू समाप्त करने और कुछ छूट चरणबद्ध रूप में देने का निर्णय लिया है. परन्तु हैल्थ प्रोटोकॉल्स को अपनाना जरूरी होगा. अन्यथा संक्रमितों की संख्या पुनः बढ़ सकती है. यह नौबत नहीं आनी चाहिए कि फिर से सख्ती करनी पड़े.









व्यापारी लगातार इसकी मांग कर रहे थे
प्रदेश में कोरोना संक्रमण के ग्राफ में गिरावट आने के बाद भी जयपुर समेत 13 शहरों में रात्रिकालीन कर्फ्यू लागू था. हाल में इसकी अवधि की बढ़ाया गया था. लेकिन इससे व्यापारी वर्ग काफी परेशान था. व्यापारियों के प्रतिनिधिमंडल लगातार सरकार से मांग कर रहे थे कि रात्रिकालीन कर्फ्यू को हटाया जाये. क्योंकि कर्फ्यू के कारण व्यापारियों को दुकानें शाम आठ बजे ही बंद करनी पड़ रही हैं. इससे उन्हें रोजना जबर्दस्त घाटा उठाना पड़ रहा है.



इन शहरों में लगा हुआ था कर्फ्यू
राज्य सरकार ने ऐहतियात के तौर पर जयपुर, कोटा, जोधपुर, बीकानेर, उदयपुर, अजमेर, अलवर, भीलवाड़ा, नौगार, पाली, टोंक, सीकर और गंगानगर जिले के शहरी इलाकों में नाइट कर्फ्यू लगा रखा था. राज्य सरकार का कहना था कि कोरोना संक्रमण को और बढ़ने से रोकने के लिए नाइट कर्फ्यू जरुरी है. लेकिन यह कर्फ्यू व्यापारियों के लिये गले की फांस बना हुआ था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज