लाइव टीवी

Rajasthan lock down: सीएम गहलोत ने की समीक्षा, कहा- पूरे दिन खुल सकती हैं आवश्यक सेवाओं की दुकानें
Jaipur News in Hindi

Goverdhan Chaudhary | News18 Rajasthan
Updated: March 24, 2020, 7:21 PM IST
Rajasthan lock down: सीएम गहलोत ने की समीक्षा, कहा- पूरे दिन खुल सकती हैं आवश्यक सेवाओं की दुकानें
सीएम गहलोत ने कहा कि इसे कानून व्यवस्था की बजाय मानवीय दृष्टकोण से देखा जाए.

सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने सभी जिलों के कलेक्टर्स-एसपी के साथ मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग करके लॉक डाउन (Lock down) के हालात की समीक्षा की.

  • Share this:
जयपुर. सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने सभी जिलों के कलेक्टर्स-एसपी के साथ मंगलवार को जयपुर में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग करके लॉक डाउन (Lock down) के हालात की समीक्षा की. सीएम ने जिलों के अधिकारियों को सख्त हिदायत दी कि कोरोना (COVID-19) से बचाव के लिए लॉक डाउन की सख्ती से पालना सुनिश्चित करें. सीएम ने कहा कि कलेक्टर और एसपी लॉक डाउन की पालना करवाएं वरना कर्फ्यू लगाना पड़ेगा.

लॉक डाउन को कानून व्यवस्था की बजाय मानवीय दृष्टकोण से देखा जाए
सीएम गहलोत ने कहा कि इसे कानून व्यवस्था की बजाय मानवीय दृष्टकोण से देखा जाए. लॉक डाउन का उद्देश्य सोशल डिस्टेंसिंग हैं. इससे आवश्यक सेवाएं बाधित ना हों. सीएम ने राज्य स्तर की तर्ज पर ही जिला स्तर पर कोरोना वॉर रूम बनाने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने लॉक डाउन में जरुरतमंदों को वाहन के लिए ऑनलाइन पास बनाने की व्यवस्था शुरू करने के निर्देश भी दिए. उन्होंने कहा कि आवश्यक सेवाओं से संबधित दुकानों के खुलने पर कोई रोक नहीं है और ना ही उनके लिए कोई समय सीमा निर्धारित की गई है.

दुकानें खुलने से सप्लाई चैन सुचारू रहेगी



गहलोत ने कहा कि दुकानें खुलने से सप्लाई चैन सुचारू रहेगी और दैनिक उपभोग की वस्तुएं लेने के दौरान भीड़भाड़ भी नहीं होगी जो कि लॉक डाउन का मुख्य उद्देश्य है. सीएम ने कहा की आवश्यक कार्यों के लिए आमजन को परेशान नहीं होना पड़े इसके लिए परमिट जारी करने की व्यवस्था को ज्यादा से ज्यादा ऑनलाइन किया जाए. निजी वाहनों की आवाजाही को कड़ाई से रोका जाए. बेवजह वाहन लेकर निकलने वालों पर पुलिस सख्ती से कार्रवाई करे. लोगों को घरों में रखना हमारी एकमात्र प्राथमिकता है.

जरुरतमंद तबकों के लिए कलक्टर्स भोजन एवं राशन की व्यवस्था करे
सीएम ने निर्देश दिए कि गरीब वंचित तबके के लोगों, फेरी लगाकर अपनी जीविका अर्जित करने वाले लोगों, रिक्शा चालकों, मजदूरों और समाज के जरुरतमंद तबकों के लिए कलक्टर्स भोजन एवं राशन की कमी नहीं आने दें. इस काम में सेवाभावी संस्थाओं, भामाशाहों आदि का सहयोग लें. चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने बाहर से आने वाले व्यक्तियों पर कड़ी निगाह रखने के निर्देश दिए ताकि वायरस न फैले. सीएस डीबी गुप्ता ने कहा कि जिला कलक्टर लॉक डाउन के कारण पैदा होने वाली स्थानीय परिस्थितियों के अनुरुप निर्णय ले सकते हैं. आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों और वाहनों को नहीं रोका जाए.

COVID-19: कजाकिस्तान में फंसे 260 भारतीय छात्र, सरकार से कर रहे बचाने की गुहार

 

COVID-19: 8 लाख अधिकारी-कर्मचारी और पेंशनर्स राहत कोष में देंगे 200 करोड़ रुपए

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 24, 2020, 7:19 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

भारत

  • एक्टिव केस

    5,218

     
  • कुल केस

    5,865

     
  • ठीक हुए

    477

     
  • मृत्यु

    169

     
स्रोत: स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार
अपडेटेड: April 09 (05:00 PM)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर

दुनिया

  • एक्टिव केस

    1,151,274

     
  • कुल केस

    1,603,428

    +355
  • ठीक हुए

    356,440

     
  • मृत्यु

    95,714

    +22
स्रोत: जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी, U.S. (www.jhu.edu)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर