COVID-19 Effect: विश्वस्तरीय ऑनलाइन शिव स्तुति प्रतियोगिता का आयोजन, घर बैठे करें Participate
Jaipur News in Hindi

COVID-19 Effect: विश्वस्तरीय ऑनलाइन शिव स्तुति प्रतियोगिता का आयोजन, घर बैठे करें Participate
शिव स्तुति प्रतियोगिता मंच आयोजित कर रहा है ऑनलाइन विश्व स्तरीय शिव स्तुति प्रतियोगिता

मंच के अध्यक्ष के मुताबिक श्रावण मास में मानव कल्याण के निमित्त इस ऑनलाइन विश्व स्तरीय शिवस्तुति प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है. इसमें शामिल होकर प्रतिभागी वैश्विक मंच पर शिव स्तुति को प्रस्तुत कर सकते हैं.

  • Share this:
जयपुर. श्रावण मास यानि सावन के महीने में भगवान शिव (Lord Shiva) को खुश करने के लिए यूं तो भक्त अलग-अलग तरह के कार्यक्रमों का आयोजन करते रहे हैं. लेकिन इस बार कोरोना महामारी (Coronavirus Pandemic) के संकट वाले दौर में कार्यक्रम का आयोजन भी ऑनलाइन (Online) हो गया है. सावन माह में शिव भक्तों के लिए विशेष ऑनलाइन विश्व स्तरीय शिव स्तुति प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है. इस प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए शिव स्तुति की प्रस्तुति देनी होगी. चयनित होने वाले प्रतिभागियों को पुरस्कृत भी किया जाएगा.

गौरतलब है कि शिव स्तुति प्रतियोगिता मंच की ओर से इसका आयोजन किया जा रहा है. मंच के अध्यक्ष रवीन्द्र जाजू और मंत्री महादेव बाहेती के मुताबिक श्रावण मास में मानव कल्याण के निमित्त इस ऑनलाइन विश्व स्तरीय शिवस्तुति प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है. उनका कहना है कि इसमें शामिल होकर प्रतिभागी वैश्विक मंच पर शिव स्तुति को प्रस्तुत कर सकते हैं. ये प्रतियोगिता सभी वर्गों के लिए खुली है. भाषा का भी इसमें कोई बंधन नहीं होगा.

प्रतियोगिता के लिए 4 आयुवर्ग
शिव स्तुति मंच ने प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए 4 आयु वर्ग निर्धारित किये हैं. पहला आयु वर्ग 9 वर्ष तक है. दूसरा 9 वर्ष से 17 वर्ष तक. तीसरा 17 वर्ष से 35 वर्ष तक और चौथा 35 वर्ष और उससे अधिक उम्र के लिए है. वहीं भाषा के लिए इसमें दो श्रेणी रखी गई हैं. पहली श्रेणी में संस्कृत एवं हिंदी और दूसरी श्रेणी में सभी भारतीय भाषाएं शामिल हैं. प्रतियोगिता का आयोजन 6 जुलाई 2020 से 3 अगस्त 2020 तक रखा गया है.
ये भी पढ़ें- RJD सांसद ने मुख्य चुनाव आयुक्त को लिखी चिट्ठी, वोटिंग नियमों में बदलाव वापस लेने की मांग



ऐसे हो सकते हैं प्रतियोगिता में शामिल
प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए दी गई लिंक पर click करना होगा. https://www.facebook.com/groups/301365937569230/?ref=share
प्रस्तुति के साथ अपना नाम, स्थान व आयु भी लिखनी होगी. इसमें शामिल होने के लिए कुछ नियम भी रखे गए हैं. जिसके तहत शिव स्तुति कण्ठस्थ होनी चाहिए. फिल्मी गानों की तर्ज पर प्रस्तुति नहीं होनी चाहिए. केवल शिव स्तुति, श्री शिव पंचाक्षरस्तोत्रम, शिव तांडव स्त्रोत्रम, रुद्राष्टकम्, श्री लिंगाष्टकम, शिवाष्टकम, वेदसारशिवस्तवः, शिव महिम्नस्तोत्र, शिव मानसपूजा, द्वादश ज्योतिर्लिंगानी, शिव चालीसा या भजन किसी भी भारतीय भाषा में होना चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज