अपना शहर चुनें

States

COVID-19: राजस्थान में एक दिन में कोरोना के 3314 नए केस, 19 मरीजों की मौत

राज्यभर में कोरोना से अब तक 2200 लोग मौत की नींद सो चुके हैं.
राज्यभर में कोरोना से अब तक 2200 लोग मौत की नींद सो चुके हैं.

Rajasthan COVID-19 Update: राजस्थान में कोरोना दिन प्रतिदिन भयावह रूप धारण करता जा रहा है. यहां इसके संक्रमण और मौत (Infection and death) की खतरनाक तस्वीर सामने आई है. मंगलवार को प्रदेश में एक ही दिन में 3314 नए केस आए.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान में बेकाबू हुआ कोराना (COVID-19) अब कहर बनकर टूट रहा है. कोरोना संक्रमण के नित नये रिकॉर्ड (New records) बना रहे प्रदेश में मंगलवार को भयावह तस्वीर सामने आई है. मंगलवार को प्रदेशभर में रिकॉर्ड 3314 नये पॉजिटिव केस (Positive case) सामने आये हैं. वहीं 19 लोगों की इससे मौत हो गई. राजधानी जयपुर में एक ही दिन में अब तक के सर्वाधिक 656 कोरोना पॉजिटिव केस सामने आये हैं.

राजस्थान में कोरोना अब रोजाना अपने रिकॉर्ड तोड़ रहा है. प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा अब 2,50,482 हो गया है. एक ही दिन में 3314 कोरोना पॉजिटिव केस मिलने से साफ है यह कहर बनकर टूट रहा है. राज्यभर में कोरोना से अब तक तक 2200 लोग मौत की नींद सो चुके हैं. मंगलवार को एक ही दिन में कोरोना से 19 मौतें दर्ज की गई हैं. यह एक दिन में होने वाली मौतों का अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा है. इससे पहले सोमवार को 18 और रविवार को 17 लोगों ने कोरोना के कारण दम तोड़ दिया था. मंगलवार को अजमेर में 4, जयपुर व जोधुपर में 3-3, अलवर व कोटा में 2-2, भरतपुर, पाली, जालोर, सीकर और उदयपुर में 1-1 कोरोना पीड़ित की मौत हो गई.

Rajasthan: कोरोना बेकाबू हुआ तो बढ़ने लगी रार, नेता चुनावों को देने लगे दोष

प्रदेश में अब 25197 एक्टिव केस


प्रदेश में अब तक कुल 4225732 लोगों के सैम्पल लिए गए हैं. इनमें से 2,50,482 कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं. कुल पॉजिटिव पाये केसेज में से 2,23,085 केस नेगेटिव हो गये हैं. उन्हें इलाज के बाद अस्पतालों से डिस्चार्ज कर दिया गया है. प्रदेश में अब 25197 एक्टिव केस हैं. चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अनुसार मंगलवार को जोधपुर में 471, कोटा में 320, अजमेर में 275, अलवर में 232, बीकानेर में 113, नागौर में 156, पाली में 165, उदयपुर में 134, टोंक में 100 पॉजिटिव केस पाये गये हैं.

भरे पड़े हैं सभी सरकारी और निजी अस्पताल
प्रदेश में बेहताशा फैल रहे संक्रमण के कारण सभी सरकारी और प्राइवेट कोविड डेडिकेटेट अस्पताल कोरोना पीड़ितों से भरे पड़े हैं. कोरोना पीड़ितों को अस्पतालों में जगह नहीं मिल पा रही है. बैड्स की मारामारी चल रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज