अपना शहर चुनें

States

Rajasthan: कोरोना संक्रमण से बचाएगा जयपुर में बना देश का पहला 3-डी मास्क !

मास्क को गर्म पानी या भाप से सेनेटाइज करके इसका पुन: प्रयोग किया जा सकता है.
मास्क को गर्म पानी या भाप से सेनेटाइज करके इसका पुन: प्रयोग किया जा सकता है.

प्रदेश के सबसे बड़े सवाई मानसिंह अस्पताल (SMS Hospital) और एमएनआईटी के सहयोग से 3-डी मास्क (3-D Mask) तैयार किया गया है. दावा किया जा रहा है कि यह देश का पहला 3-डी मास्क है.

  • Share this:
जयपुर. कोराना संक्रमण काल में नये स्ट्रेन (New strains) की खबरों के बीच राजस्थान के सबसे बड़े सवाई मानसिंह अस्पताल से राहतभरी खबर आई है. यहां एसएमएस अस्पताल और एमएनआईटी के सहयोग से 3-डी मास्क (3-D Mask) तैयार किया गया है. दावा किया जा रहा है कि यह देश का पहला 3-डी मास्क है. जयपुर की एक कंपनी ने इस थ्री-डी मास्क बनाया है. खास बात ये है कि इस मास्क का विकास और निर्माण पूर्णतया जयपुर में हुआ है. यह मास्क संक्रमण से 99.9 फीसदी तक बचाएगा. हाल ही में सवाई मानसिंह मेडिकल कॉलेज के चिकित्सकों के लिए नये 500 3डी मास्क कॉलेज प्राचार्य डॉ. सुधीर भंडारी को सौंपे गए हैं.

एसएमएस के न्यूरो सर्जरी विभाग के वरिष्ठ न्यूरो सर्जन डॉ. वीरेंद्र सिन्हा और एमएनआईटी के डायरेक्टर प्रो. यारागट्टी के सहयोग से इस 3-डी तकनीक युक्त यह मास्क बनाया गया है. मास्क बनाने वाली कंपनी के निदेशक आकाश ने बताया कि 40 ग्राम वजनी यह मास्क पूर्णतया ट्रांसपेरेंट है. यह नरम और लचीला है तथा मेडिकल कम्पाउड से बना हुआ है. दिखने में बेहद आकर्षक 3 डी मास्क में सांस लेना में आसान है. प्रीमियम रीयुजेबल रेसपिरेटर 3-डी मास्क रिप्लेसेबल फिल्टर कन्सेप्ट का है.

Rajasthan: 7 साल में पहली बार कांग्रेस के स्थापना दिवस पर पार्टी कार्यालय नहीं आए सचिन पायलट

महीनों नहीं बल्कि बरसों तक किया जा सकता है इस्तेमाल


मास्क को गर्म पानी या भाप से सेनेटाइज करके इसका पुन: प्रयोग किया जा सकता है. एक फिल्टर सात दिन तक इस्तेमाल किया जा सकता है. एक मास्क के साथ 11 फिल्टर उपलब्ध कराये गए हैं जो कि तीन से चार महीने तक उपयोग में लिए जा सकते हैं. इसके बाद मार्केट से केवल फिल्टर खरीद कर इसमें इस्तेमाल किए जा सकते हैं. यानी यह आपका मास्क सदा के लिए है. इसका इस्तेमाल महीनों नहीं बल्कि बरसों तक किया जा सकता है. एमएनआईटी जयपुर की एलुमनाई सारथी टैक्नोलॉजीज की ओर से किया गया है. एसएमएस मेडिकल कॉलेज के अलावा 200 3-डी मास्क जयपुर ट्रेफिक पुलिस को भी एसोसिएशन की ओर से दिए गए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज