Jaipur: मंत्री शांति धारीवाल और ममता भूपेश को खाली करने पड़ सकते हैं सरकारी बंगले, जानिये क्या है वजह

बंगला नंबर बी-3 में महिला एवं बाल विकास मंत्री ममता भूपेश और बी-4 में यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल रहते हैं.

गहलोत सरकार 'निरोगी राजस्थान' के तहत राजधानी जयपुर में स्थित के राज्य के सबसे बड़े सवाई मानसिंह अस्पताल (SMS Hospital) की सेवाओं का विस्तार करने जा रही है.

  • Share this:
जयपुर. गहलोत सरकार 'निरोगी राजस्थान' के तहत राजधानी जयपुर में स्थित के राज्य के सबसे बड़े सवाई मानसिंह अस्पताल (SMS Hospital) की सेवाओं का विस्तार करने जा रही है. कोरोना (COVID-19) मामलों और अन्य बीमारियों के मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए एसएमएस मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉक्टर सुधीर भंडारी ने अस्पताल रोड स्थित सरकारी आवास (Government Bungalow) बी- 2 से लेकर बी- 5 तक किसी जनप्रतिनिधि या अन्य को आवंटित नहीं करने का आग्रह किया है. डॉक्टर सुधीर भंडारी ने मुख्य सचिव को इसको लेकर ऑफिशियल चिट्ठी भी लिखी है.

यह कहा डॉक्टर भंडारी ने अपने पत्र में
डॉक्टर भंडारी ने 27 जून को लिखे पत्र में स्पष्ट कहा है कि 'निरोगी राजस्थान' की कड़ी में एसएमएस हॉस्पिटल की सेवाओं का विस्तार करना नितांत आवश्यक है. ऐसे में हॉस्पिटल परिसर के आसपास के सरकारी बंगले किसी को आवंटित नहीं किया जाएं. अस्पताल रोड स्थित बंगला नंबर बी-2 को हाल ही में बीजेपी सांसद किरोड़ीलाल मीणा ने खाली किया है. जबकि बंगला नंबर बी-3 में महिला एवं बाल विकास मंत्री ममता भूपेश, बी-4 में यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल और बी-5 में राज्य के महाधिवक्ता एमएस सिंघवी रहते हैं.

Rajasthan: कोरोना काल में सरकार ने बिजली के बिलों को लेकर उपभोक्ताओं को दी यह बड़ी राहत

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा खाली कराने के पक्ष में
सूत्रों के अनुसार चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा भी अस्पताल मार्ग स्थित सरकारी आवास किसी को भी आवंटित करने के पक्ष में नहीं हैं. ऐसे में माना जा रहा है कि स्वास्थ्य मंत्री शर्मा के निर्देश पर ही एसएमएस मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉक्टर सुधीर भंडारी ने मुख्य सचिव को पत्र लिखा है. गत 3 जून को मुख्य सचिव डीबी गुप्ता की अध्यक्षता में सचिवालय में एक अहम बैठक हुई थी. बैठक में एसएमएस अस्पताल के अधिकारियों ने इन सरकारी आवासों को हॉस्पिटल के लिए उपयोग में लिये जाने की मांग की थी.

Rajasthan: गहलोत सरकार ने किया ब्यूरोक्रेसी में बड़ा बदलाव, CS समेत 17 कलेक्टर बदले, 103 IAS के तबादले

सीएम गहलोत की हरी झंडी का इंतजार
कोरोना के संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पहले ही संकेत दे चुके हैं कि राज्य में स्वास्थ्य सेवाओं का विस्तार किया जाना नितांत आवश्यक है. निरोगी राजस्थान की कड़ी में एसएमएस हॉस्पिटल की सेवाओं का विस्तार भी किया जा रहा है. ऐसे में माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री इन सरकारी आवासों को हॉस्पिटल के उपयोग में लाने के निर्देश दे सकते हैं. हालांकि अभी तक इस कोई निर्णय नहीं हो पाया है, लेकिन मंथन जरूर चल रहा है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.