COVID-19: मोदी सरकार ने की गहलोत सरकार के राजस्थान 'लॉक डाउन' निर्णय की सराहना
Jaipur News in Hindi

COVID-19: मोदी सरकार ने की गहलोत सरकार के राजस्थान 'लॉक डाउन' निर्णय की सराहना
केन्द्रीय कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने गहलोत सरकार के निर्णय की सराहना करते हुए कहा कि अन्य राज्य भी राजस्थान की तरह लॉक डाउन करें.

कोरोना वायरस (Corona virus) के बचाव के लिए राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार की ओर से उठाए जा रहे कदमों की मोदी सरकार (Modi government) ने सराहना की है. गहलोत सरकार के 'राजस्थान लॉक डाउन' (Rajasthan lock down) के निर्णय को केन्द्र सरकार ने सराहा है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
जयपुर. कोरोना वायरस (Corona virus) के बचाव के लिए राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार की ओर से उठाए जा रहे कदमों की मोदी सरकार (Modi government) ने सराहना की है. गहलोत सरकार के 'राजस्थान लॉक डाउन' (Rajasthan lock down) के निर्णय को केन्द्र सरकार ने सराहा है. रविवार को केंद्रीय कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए गहलोत सरकार द्वारा कोरोना वायरस से बचाव के लिए किए जा रहे कार्यों का फीडबैक लिया. सचिवालय से मुख्य सचिव डीबी गुप्ता कोरोना की रोकथाम के लिए अब तक उठाए गए राज्य सरकार के निर्णयों की जानकारी केंद्र सरकार को दी.

अन्य राज्य भी राजस्थान की तरह लॉकडाउन करें
इस दौरान केन्द्रीय कैबिनेट सचिव ने कहा कि राजस्थान अग्रणी राज्य है, जिसने पूरे राज्य में लॉकडाउन किया है. राजीव गौबा ने कहा कि अन्य राज्य भी राजस्थान की तरह लॉकडाउन करें. मुख्य सचिव डीबी गुप्ता ने बताया देश के अन्य राज्यों गुजरात, यूपी और हरियाणा ने उनसे संपर्क साधा है. वहां भी लॉक डाउन हो सकता है. 31 मार्च तक ट्रेन संचालन पूरी तरह बंद है. यह हमारे हाथ में नहीं था, लेकिन अब केंद्र ने उसे मंजूरी दे दी है. सरकार जनता को परेशानी नहीं देना चाहती, लेकिन बीमारी को देखते हुए यह जरूरी है.

पीडीएस का गेहूं अप्रैल और मई का एक साथ देंगे



वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद मुख्य सचिव डीबी गुप्ता ने कहा कि पीडीएस का गेहूं अप्रैल और मई का एक साथ दिया जाएगा. खाद्य सुरक्षा योजना में जुडे लोगों को निशुल्क राशन मिलेगा. शहरी गरीब जरुरतमंद के लिए फूड पैकेट बनाए जाएंगे. उसमें सूखा राशन दिया जाएगा. व्यापार संघ और एनजीओ से भी अपील कर रहे हैं. हमारे डीएसओ इसकी पूरी व्यवस्था संभालेंगे. मुख्य सचिव ने कहा कि यदि कोई परेशानी आती है तो आप हमारे कंट्रोल नंबर 104 और 108 पर शिकायत दर्ज कराएं.



मुख्य सचिव ने बनाई अफसरों की टीम
मुख्य सचिव डीबी गुप्ता ने कहा कि हमने दो एक्सपीरियंस लिए हैं. इसमें पहला झुंझुनूं का है, जहां 3 पॉजिटिव आए और कर्फ्यू लगाया दिया. उसके बाद वहां कोई केस नहीं मिला. उसे वहीं कंट्रोल किया गया. भीलवाडा में एक डॉक्टर से लोग संक्रमित हुए और उनकी संख्या 12 तक पहुंच गई. हमने वहां भी कर्फ्यू लगा दिया. अब घर घर सर्वे किया जा रहा है. मुख्य सचिव ने कहा कि अधिकारियों की एक टीम बनाई गई है. टीम में वरिष्ठ अधिकारियों को शामिल किया गया है. फोन करके टीम के सदस्य को किसी भी तरह की परेशानी से अवगत कराया जा सकता है.

मुख्य सचिव ने संभाल रखी है पूरी कमान
बकौल गुप्ता टीम में शामिल अफसर मुझे अवगत कराएंगे और मैं मुख्यमंत्री को अवगत कराऊंगा. कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सरकारी मशीनरी पूरी तरह वह एक्टिव मोड पर है. मुख्य सचिव डीबी गुप्ता ने खुद इसकी पूरी कमान संभाल रखी है. मुख्य सचिव ने सभी आला अफसरों को सख्त निर्देश दिए हैं कि लॉक डाउन के दौरान किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

 

COVID-19: गहलोत सरकार का बड़ा फैसला, 31 मार्च तक राजस्थान लॉक डाउन

 

COVID-19: आपकी सुरक्षा के लिए राजस्थान 'लॉक डाउन', जानिए क्या हैं इसके मायने
First published: March 22, 2020, 4:44 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading