जयपुर: राजस्थान रोडवेज ने तीन दिन में 20 हजार मजदूरों को पहुंचाया उनके घर
Jaipur News in Hindi

जयपुर: राजस्थान रोडवेज ने तीन दिन में 20 हजार मजदूरों को पहुंचाया उनके घर
राजस्थान रोडवेज ने तीन दिन में 20 हजार मजदूरों को पहुंचाया उनके घर (फाइल फोटो)

प्रदेश के जैसलमेर जिले में सबसे ज्यादा प्रवासी मजदूर (Labours) फंसे हुए थे. यहां से रोडवेज ने करीब 15 हजार प्रवासियों का परिवहन किया. इसके लिए रोडवेज को करीब 300 से ज्यादा बसें लगानी पड़ी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 29, 2020, 10:10 PM IST
  • Share this:
जयपुर. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) की मंशा के अनुसार राजस्थान रोडवेज (Rajasthan Roadways) ने काम करते हुए पिछले तीन दिन में करीब 20 हजार प्रवासी मजदूरों और अन्य लोगों को उनके घरों तक पहुंचाया. इसमें सबसे ज्यादा संख्या मध्यप्रदेश के लोगों की थी. जो लॉकडाउन के बाद से ही प्रदेश के अलग-अलग जिलों में बने शेल्टर होम और क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे थे.

जैसलमेर में थे सबसे ज्यादा प्रवासी मजदूर
प्रदेश के जैसलमेर जिले में सबसे ज्यादा प्रवासी मजदूर फंसे हुए थे. यहां से रोडवेज ने करीब 15 हजार प्रवासियों का परिवहन किया. इसके लिए रोडवेज को करीब 300 से ज्यादा बसें लगानी पड़ी. इसके अलावा जोधपुर, नागौर, जयपुर, सीकर और अलवर से भी प्रवासी मजदूरों और अन्य लोगों को मध्यप्रदेश के बॉर्डर तक छोड़ा गया.

शुक्रवार से जल्द खुलेगा होगा हरियाणा और यूपी बॉर्डर
अब राजस्थान रोडवेज जल्द ही हरियाणा और उत्तरप्रदेश बॉर्डर तक प्रवासी लोगों को छोड़ने और वहां से राजस्थानियों को लाने का काम करेगी. रोडवेज सीएमडी नवीन जैन ने बताया कि शुक्रवार से हम हरियाणा के लिए परिवहन शुरू कर देंगे. इसके लिए बहरोड़ और सिरसा दो बॉर्डर तय किये गए है. हम प्रदेश से करीब 2 हजार लोगों को छोड़ेंगे. वहीं वहां से करीब 522 मजदूरों को प्रदेश में लाया जाएगा. इसके साथ ही अनुमति मिलते ही यूपी बॉर्डर तक भी परिवहन शुरू कर दिया जाएगा.



गृह मंत्रालय की गाइडलाइन से पड़ेगा असर
इस पूरे ऑपरेशन में अभी तक प्रदेश से बाहर जाने वाले लोगों की संख्या बहुत ज्यादा रही है. लेकिन आने वाले प्रवासी राजस्थानियों की संख्या बहुत कम है. यहीं वजह कि पिछले तीन दिनों में रतनपुर बॉर्डर से गुजरात व महाराष्ट्र से करीब 1580 प्रवासी प्रदेश में पहुंचे. इनमें गुजरात से 1503 व महाराष्ट्र से आये 77 प्रवासी शामिल रहे. लेकिन आज गृह मंत्रालय की गाइड लाइन के बाद इसमें इजाफा होने की उम्मीद है.

ये भी पढ़ें: Rajasthan: जयपुर में बिगड़ा मौसम का मिजाज, जबर्दस्त अंधड़ और बारिश
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading