जुलाई में कराई जा सकती हैं Rajasthan University की UG और PG की परीक्षाएं
Jaipur News in Hindi

जुलाई में कराई जा सकती हैं Rajasthan University की UG और PG की परीक्षाएं
विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. आरके कोठारी ने छात्रों को बधाई दी है. (File Photo)

राजस्थान विश्वविद्यालय (Rajasthan University) की परीक्षाएं जुलाई माह में आयोजित कराई जा सकती है. यूजी और पीजी के करीब 5.5 लाख स्टूडेंट्स की परीक्षाओं (Examinations) को लेकर विश्वविद्यालय तैयारी में जुटा हुआ है.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान विश्वविद्यालय (Rajasthan University) की परीक्षाएं जुलाई माह में आयोजित कराई जा सकती है. अंडर ग्रेजुएट (यूजी) और पोस्ट ग्रेजुएट (पीजी) के करीब साढ़े पांच लाख स्टूडेंट्स की परीक्षाओं (Examinations) को लेकर विश्वविद्यालय तैयारियों में जुटा हुआ है. कोरोना संकट के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) को ध्यान में रखते हुए नए एग्जाम सेंटर चिन्हित कर लिए गए हैं. राज्य सरकार से स्वीकृति मिलने के बाद परीक्षाओं का संशोधित टाइमटेबल जारी कर दिया जाएगा.

15 जून से प्रैक्टिकल परीक्षाएं शुरू कराने की तैयारी
दरअसल कोरोना संकट के कारण राजस्थान विश्वविद्यालय की परीक्षाओं को मार्च महीने में स्थगित कर दिया गया था. साथ ही विश्वविद्यालय ने 31 मई तक ग्रीष्म अवकाश भी घोषित कर दिया था. लेकिन अब यदि यूनिवर्सिटी को परीक्षा कराने की स्वीकृति मिलती है तो आरयू इसके लिए पूरी तरह तैयार है. विश्वविद्यालय प्रशासन 10 जून तक परीक्षाओं की स्वीकृति मिलने की उम्मीद कर रहा है. राज्य सरकार से परीक्षाएं कराने को लेकर हरी झंडी मिलने के बाद सबसे पहले स्टूडेंट्स की प्रायोगिक परीक्षाएं (प्रैक्टिकल एग्जाम) कराई जाएगी. फिलहाल 15 जून से प्रैक्टिकल परीक्षाएं शुरू करने के अनुसार तैयारी की जा रही है.

122 परीक्षा केंद्र हैं, बढ़ाकर 200 तक किया जा सकता 



यूनिवर्सिटी के परीक्षा नियंत्रक डॉ. वीके गुप्ता का कहना है कि विश्वविद्यालय ने अपने सभी कॉलेजों पर बने परीक्षा केंद्रों से विद्यार्थियों में सोशल डिस्टेंसिंग रखने के अनुसार जानकारी मांगी है. इसके तहत दो गज की दूरी पर बिठाकर स्टूडेंट्स की परीक्षाएं कराई जा सकती हैं. मौजूदा समय में 122 परीक्षा केंद्र हैं. उन्हें बढ़ाकर 200 तक किया जा सकता है.



पीजी की एक भी परीक्षा नहीं हो सकी है
फिलहाल आरयू की पीजी की एक भी परीक्षा नहीं हो सकी है. यह परीक्षाएं दो अप्रैल से होना प्रस्तावित थी जबकि यूजी की भी 75 प्रतिशत परीक्षाएं बाकी हैं. सेमेस्टर और लॉ की परीक्षाएं भी नहीं हो सकी हैं. विश्वविद्यालय के सामने सबसे बड़ी चुनौती एनुअल यूजी एग्जाम कराने की है. क्योंकि इस परीक्षा में यूनिवर्सिटी के साढ़े चार लाख विद्यार्थी शामिल होंगे. विश्वविद्यालय प्रशासन का कहना है कि उन्हें यदि एक सप्ताह का समय भी मिलता है तो भी उसके अनुरूप उनकी तैयारियां कर ली गई हैं.

परिणाम जारी करने की तैयारियां भी करवाई जा रही 
परीक्षाएं होने के साथ ही जल्द से जल्द मूल्यांकन करवा कर परिणाम जारी किए जा सकें इसकी तैयारियां भी की जा रही हैं. बीते दिनों छात्र नेताओं ने स्टूडेंट्स को प्रमोट करने की मांग की थी. लेकिन विश्वविद्यालय की इन तैयारियों से स्पष्ट है कि ऐसा कोई भी निर्णय नहीं हो सकेगा.

यह भी पढ़ें-

Rajasthan: 1 जून से शुरू होगा पर्यटन, 2 सप्ताह एंट्री रहेगी 'फ्री'

जयपुर-जोधपुर समेत इन इलाकों में बारिश की संभावना, गर्मी से राहत की उम्‍मीद
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading