Rajasthan: बढ़ता कोरोना डाल सकता है होली के रंग में भंग, गहलोत सरकार उठा सकती है कड़े कदम

राजस्थान गत वर्ष इसी समय संपूर्ण प्रदेश में लॉकडाउन लगाने वाला देश का पहला राज्य बना था. (सांकेतिक तस्वीर)

राजस्थान गत वर्ष इसी समय संपूर्ण प्रदेश में लॉकडाउन लगाने वाला देश का पहला राज्य बना था. (सांकेतिक तस्वीर)

Second wave of corona virus: राजस्थान में कोरोना वायरस का फिर से लगातार बढ़ता खतरा होली के रंग में भंग डाल सकता है. हालात नहीं सुधरने की स्थिति में पूर्व की भांति गहलोत सरकार फिर से कड़े कदम उठा सकती है.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान में कोरोना वायरस की दूसरी लहर लौटने से संक्रमण का खतरा बढ़ता ही जा रहा है. कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ते देख प्रदेश की गहलोत सरकार अलर्ट मोड पर आ गई है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना महामारी के लिए जारी की गई गाइडलाइन का सख्ती से पालन कराने के लिए उच्च स्तर पर अधिकारियों के साथ मंथन कर लिया है. जल्द ही कुछ कड़े कदम उठाए जा सकते हैं.

बता दें कि पिछले साल देश में सबसे पहले राजस्थान में ही संपूर्ण लॉकडाउन लगाया गया था. गहलोत सरकार ने 22 मार्च से 31 मार्च तक राजस्थान में संपूर्ण लॉकडाउन लगा दिया गया था. कमोबेश ऐसे ही हालात अब होते जा रहे हैं या यूं कहें कि तेजी से हालात बिगड़ते जा रहे हैं. अगर मौजूदा हालात में कोई सुधार नहीं हुआ तो हो सकता है इस बार भी होली कोरोना गाइडलाइन के तहत सरकारी प्रतिबंधों के बीच मनानी पड़े. अब ऐसा माना जा रहा है कि राज्य सरकार कुछ नई गाइडलाइन जारी कर कठोर निर्णय ले सकती है.

Youtube Video

300 से ज्यादा केस आने से स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी सकते में

आगे पढ़ें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज