Rajasthan: गहलोत सरकार के मंत्रियों को 5 दिन तक रहना होगा फील्ड में, यह है बड़ी वजह

सीएम अशोक गहलोत ने हाल ही में इस अभियान की वर्चुअल लॉन्चिंग करते हुए कहा था कि खुद के स्वास्थ्य का खुद ध्यान रखें. यही सबसे बड़ा बचाव है.
सीएम अशोक गहलोत ने हाल ही में इस अभियान की वर्चुअल लॉन्चिंग करते हुए कहा था कि खुद के स्वास्थ्य का खुद ध्यान रखें. यही सबसे बड़ा बचाव है.

राज्य सरकार ने अहम निर्णय लेते हुए कहा कि जिलों के प्रभार वाले मंत्री 5 दिन तक अपने जिलों में रहेंगे. मंत्रिमंडल सचिवालय ने इसके आधिकारिक आदेश जारी कर सभी मंत्रियों को सूचना भिजवा दी है.

  • Share this:
जयपुर. राज्य सरकार की ओर से कोविड-19 (COVID-19) से बचाव और नियंत्रण के लिए 21 जून से 30 जून तक विशेष जन-जागरुकता अभियान (Special public awareness campaign) का आयोजन किया जा रहा है. राज्य सरकार ने अहम निर्णय लेते हुए कहा कि जिलों के प्रभार वाले मंत्री 5 दिन तक अपने जिलों में रहेंगे. मंत्रिमंडल सचिवालय ने इसके आधिकारिक आदेश जारी कर सभी मंत्रियों को सूचना भिजवा दी है. इस दौरान मंत्री कोरोना संक्रमण के साथ-साथ सरकार की योजनाओं और मानसून समेत अन्य हालात की समीक्षा करेंगे. उनके साथ प्रभारी सचिव भी मौजूद रहेंगे.

Rajasthan weather update: अब कभी भी आ सकता है मानसून, आज 7 जिलों में अत्यधिक बारिश की चेतावनी

मंत्री और अधिकारी स्थानीय भाषा में लोगों को समझा रहे हैं
प्रदेशभर में चल रहे इस विशेष जन-जागरुकता अभियान के तहत राज्य स्तर, जिला स्तर तथा उपखण्ड स्तर पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं. मुख्यमंत्री के निर्देश पर प्रभारी मंत्री और प्रभारी सचिव कोरोना से बचाव के उपाय के बारे में लोगों को स्थानीय भाषा में समझा रहे हैं. इस अभियान को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने यह भी निर्देश दे रखें है कि कोरोना से बचाव के उपायों को स्थानीय भाषा में लोगों को समझायें. लोक कलाकारों की भी इस कार्य में मदद ली जाए. कला एवं संस्कृति विभाग इसमें लोक कलाकारों की भूमिका सुनिश्चित करेगा.
Rajasthan: सचिन पायलट का सीएम अशोक गहलोत पर निशाना, राज्‍यसभा चुनाव को लेकर कही यह बात



30 जून तक चलेगा जन जागरुकता अभियान
21 जून से शुरू हुआ यह जन जागरूकता अभियान प्रदेशभर में 30 जून तक चलेगा. इस अभियान में स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ ही गांवों में पंचायत सदस्यों, सचिवों, आशा सहयोगिनी, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और सामाजिक व व्यापारिक संगठनों का भी सहयोग लिया जा रहा है. सीएम अशोक गहलोत ने हाल ही में इस अभियान की वर्चुअल लॉन्चिंग करते हुए कहा था कि इस महामारी के खिलाफ लड़ाई में राजस्थान की जनता ने सरकार का भरपूर सहयोग दिया है. गहलोत ने कहा था कि कोरोना का खतरा अभी तक टला नहीं है. बकौल सीएम खुद के स्वास्थ्य का खुद ध्यान रखें. यही सबसे बड़ा बचाव है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज