Rajasthan: कोरोना से जंग लड़ते लड़ते जिंदगी को हारकर भी जीत गए ये योद्धा, शहीद का दर्जा देने की मांग
Jaipur News in Hindi

Rajasthan: कोरोना से जंग लड़ते लड़ते जिंदगी को हारकर भी जीत गए ये योद्धा, शहीद का दर्जा देने की मांग
ये योद्धा ना जाने कितने पीड़ितों को नई जिंदगी देकर लोगों के दिलों में जगह बना गये.

पीड़ित मानवता की सेवा के लिये कोरोना से जंग करते-करते देश के 366 चिकित्सक (Doctors) अपनी जान गंवा चुके हैं. इन 366 कोरोना वॉरियर्स (Corona warriors) में से 8 राजस्थान (Rajasthan) के हैं. अब इन्हें शहीद का दर्जा देने की मांग उठ रही है.

  • Share this:
जयपुर. देश और दुनिया में कोरोना (COVID-19) संकट बेकाबू हो रहा है. इस वैश्विक महामारी से पीड़ितों को बचाते-बचाते देशभर में अब तक 366 चिकित्सक (Doctors) खुद इसकी चपेट में आकर अपनी जान गंवा चुके हैं. इन 366 कोरोना वॉरियर्स (Corona warriors) में से 8 राजस्थान (Rajasthan) के हैं. कोरोना से जंग लड़ते- लड़ते ये चिकित्सक जिंदगी को हार कर भी जीत गए हैं. इसके बावजूद देश और प्रदेश के डॉक्टर्स मानव सेवा का धर्म निभाने में कतई पीछे नहीं हटे हैं. ये खुद की जान जोखिम में डालकर निरंतर अपने कर्तव्य पथ पर आगे बढ़ते जा रहे हैं.

Rajasthan: पायलट कैम्प के 3 विधायकों ने बंद लिफाफे में सौंपे अजय माकन को सुझाव, अटकलबाजी शुरू

कोरोना पीड़ितों की सेवा करते हुए राजस्थान के इन चिकित्सक योद्धाओं ने गंवाई अपनी जान
1. डा. सुंदर तोलानी यूरोलोजिस्ट - जयपुर
2. डा. सुरेश मोदी - डूंगरपुर


3. डा.केके व्यास - पाली
4. डा. किरण व्यास - पाली
5. डा. पवन गोयल एसएमएस अस्पताल - जयपुर
6. डा. महेश वर्मा, बीसीएमएचओ - राजाखेड़ा धौलपुर
7. डा.धर्मु सोगानी - अजमेर
8.डा. विनोद धर्माधिकारी - पाली

Rajasthan: कांग्रेस नेताओं की पीड़ा, अजय माकन से कहा- नहीं चलती हमारी 'चवन्नी', सरकार का इकबाल बुलंद करें



शहीद का दर्जा देने की उठी मांग
महामारी के इस दौर में पीड़ित मानवता की सेवा में जान गंवाने वाले इन चिकित्सकों के त्याग को भविष्य में भी याद किया जाता रहे इसके लिये अखिल राजस्थान सेवारत चिकित्सक संघ के प्रदेश अध्यक्ष अजय चौधरी ने राजस्थान सरकार से मांग की है कि इन कोरोना योद्धाओं को शहीद का दर्जा दिया जाए. आगे भी इस तरह की घटना होने पर उनका राजकीय सम्मान से अंतिम संस्कार करवाया जाए.

हर दिल में बनाई अलग जगह
प्रदेश के इन कोरोना योद्धाओं के लिए शहीद का दर्जा देने की मांग सरकार सुनेगी या नहीं सुनेगी यह कहना तो बहुत मुश्किल है, लेकिन यह सच है कि ये योद्धा ना जाने कितने पीड़ितों को नई जिंदगी देकर लोगों के दिलों में जरुर जगह बना गये.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज