Alert: राजस्थान में जोधपुर, अलवर, पाली, भरतपुर, बीकानेर और अजमेर तेजी से फैल रहा है कोरोना

कोरोना के बढ़ते मामलों से साफ है कि इन शहरों सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो रहा है और सेनिटाइजेशन तथा मास्क लगाने को लेकर भी लापरवाही बरती जा रही है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

राजस्थान में जुलाई के प्रथम सप्ताह से ही कुछ चुनिंदा जिलों में कोरोना सक्रंमण के मामले तेजी से सामने आ रहे हैं. यदि कोरोना प्रभावित जिलों को देखें तो इनमें जोधपुर, अलवर, पाली, भरतपुर, बीकानेर और अजमेर जिले सबसे आगे हैं.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) में जुलाई के प्रथम सप्ताह से ही कुछ चुनिंदा जिलों में कोरोना सक्रंमण (COVID-19) के मामले तेजी से सामने आ रहे हैं. यदि कोरोना प्रभावित जिलों को देखें तो इनमें जोधपुर, अलवर, पाली, भरतपुर, बीकानेर और अजमेर जिले सबसे आगे हैं. जोधपुर में अब तक 6311 और जयपुर में 4954 पॉजिटिव आ चुके हैं. जबकि अलवर में 3161, भरतपुर में 2392, पाली में 2412, बीकानेर में 1789 और अजमेर में अब तक 1596 पॉजिटिव सामने आए हैं.

10 हजार से ज्यादा इलाज के लिए भर्ती हैं
प्रदेश के अस्पतालों में इस समय 10 हजार से ज्यादा 10097 मरीज कोरोना के इलाज के लिए भर्ती हैं. अलवर के भिवाड़ी में श्रमिक बस्तियों में तेजी से संक्रमण फैला है. इससे यह साफ है कि प्रदेश के इन जिलों में कोरोना से बचाव के जो नियम हैं उनका पालन नहीं किया जा रहा है. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो रहा है और सेनिटाइजेशन और मास्क लगाने को लेकर भी लापरवाही बरती जा रही है.

Rajasthan: पश्चिम बंगाल में लॉकडाउन के चलते NWR ने आंशिक तौर पर रद्द की 2 ट्रेनें

राजधानी जयपुर में तेजी से बढा संक्रमण
राजस्थान की राजधानी जयपुर में बीते दस दिन में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ा है. अप्रेल-मई में शहर के चारदीवारी क्षेत्र से सबसे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव मिल रहे थे. वहीं अब चारदीवारी से बाहरी इलाकों में कोरोना केस की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. जुलाई में बड़े इलाके सांगानेर, मानसरोवर, वैशालीनगर, शास्त्रीनगर, मालवीय नगर, सोडाला और झोटवाड़ा कोरोना के नए एपिसेंटर बने हैं. बीते दस दिनों में यहां 823 केस मिले हैं और एक्टिव केस की संख्या वर्तमान में 1111 है. इनमें से 50 फीसदी यानि 552 केस केवल दस इलाकों के ही हैं.

12 दिन में रिकवरी रेट में 5 फीसदी की कमी दर्ज
कोरोना के मामले बढ़ने के साथ ही राजधानी जयपुर में रिकवरी रेट भी गिरी है. 15 जुलाई को रिकवरी रेट 78.70 थी जो कि 27 जुलाई को 73.89 पर आ गई. जयपुर शहर में अब तक 4954 पॉजिटिव मिल चुके हैं. इनमें से 182 की मौत हो चुकी है और 3661 रिकवर व इतने ही डिस्चार्ज हो चुके हैं.

Rajasthan Weather Alert: मानसून की रफ्तार पड़ी धीमी, फिर भी 31 जुलाई तक के लिए येलो अलर्ट

बिना लक्षण वाले मरीजों से फैल रहा संक्रमण
राजधानी जयपुर के सीएमएचओ प्रथम डॉ. नरोत्तम शर्मा का कहना है कि सोशल डिस्टेंसिंग की पालना और मास्क का उपयोग नहीं करने से संक्रमण तेजी से बढ़ा है. डॉ शर्मा ने कहा कि चूंकि अब लॉकडाउन नहीं है, ऐसे में बिना लक्षण वाले लोग भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाते हैं तो उनके संपर्क में आने वाले लोग पॉजिटिव हो रहे हैं. इससे बचने के लिए सबसे जरूरी है बचाव के नियमों का पालन लॉकडाउन पीरियड की तरह ही किया जाए.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.