राजस्थान: जयपुर के हर ब्लॉक में बनेगा कोविड केयर सेंटर, घर के नजदीक होगा इलाज, जानिये क्या है पूरा प्लान

बीलवा से सिर्फ गंभीर मरीजों को ही RUHS और जयपुरिया अस्पताल में रेफर किया जायेगा.

Covid Care Center in Jaipur: राजधानी जयपुर में कोविड केयर सेंटर्स की संख्या बढ़ाई जायेगी. इसके तहत जयपुर के सभी 23 ब्लॉक में कोविड केयर सेंटर बनाये जायेंगे. जिला प्रशासन और जेडीए इसकी तैयारियों में जुटा है.

  • Share this:
जयपुर. प्रदेश में कोरोना संक्रमण के सबसे बड़े हॉट स्पॉट बनी राजधानी जयपुर (Corona Hot-Spot Jaipur) में अब कोविड-19 पीड़ितों का उनके घर के पास ही इलाज किया जायेगा. इसके लिये राजधानी जयपुर में 23 कोविड केयर सेंटर (Covid Care Center) बनाये जायेंगे. जयुपर विकास प्राधिकरण और जिला प्रशासन इन कोविड सेंटर को तैयार करने में जुटा है.

जयपुर में कोरोना के मामलों को कंट्रोल करने और मरीजों को तत्काल बेहतर इलाज उपलब्ध कराने के लिए अधिकारी लगातार प्रयास कर रहे हैं. इसी को लेकर बुधवार को जिला कलक्ट्रेट में जेडीसी गौरव गोयल की अध्यक्षता में बैठक हुई. बैठक में जिला कलेक्टर अंतर सिंह नेहरा, अतिरिक्त जिला कलेक्टर अशोक कुमार और मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर नरोत्तम शर्मा सहित अन्य अस्पतालों के नोडल अधिकारी मौजूद रहे.

जयपुर के सभी 23 ब्लॉक में बनेगा कोविड सेंटर
बैठक में अस्पतालों में चिकित्सा सुविधाएं बढ़ाने और ऑक्सीजन की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए निर्देश दिए गये. इसको लेकर गौरव गोयल ने बताया कि कोरोना संक्रमण को रोकने और मरीजों को इलाज उपलब्ध करवाने के लिए प्रशासन की ओर से लगातार प्रयास किया जा रहा है. अब जयपुर के सभी 23 ब्लॉक में 1-1 सीएचसी को कोविड-19 सेंटर के तौर पर तैयार किया जा रहा है. इनमें कोरोना मरीजों का इलाज किया जाएगा. ऑक्सीजन की पूर्ति के लिए और बेड उपलब्ध करवाने के लिए नोडल अधिकारियों को मरीजों के डिस्चार्ज करने, अस्पतालों में सरकार की ओर से निर्धारित दरों पर इलाज करने और ऑक्सीजन की सप्लाई के ऑडिट करने के निर्देश दिए गए हैं.



बीलवा में बढ़ाई जायेगी क्षमता
इसी के साथ ही जयपुर के समीप बीलवा में बनाए गए कोविड केयर सेंटर में जैसे-जैसे मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है वहां ऑक्सीजन की आपूर्ति के अनुसार बेड बढ़ाने का काम किया जा रहा है. इसके साथ ही भर्ती मरीजों को जो समस्याएं हो रही है उनका भी समाधान करने का पूरा करने का काम किया जा रहा है. बीलवा से सिर्फ गंभीर मरीजों को ही RUHS और जयपुरिया अस्पताल में रेफर किया जायेगा.