COVID-19: 33 लाख परिवारों को गहलोत सरकार ने दी राहत, एक हजार रुपए की दूसरी किश्त जारी

गरीब परिवारों के लिए सरकार का बड़ा फैसला.

गरीब परिवारों के लिए सरकार का बड़ा फैसला.

Jaipur News: कोरोना संकट (COVID-19) के बीच आजीविका का संकट झेल रहे 33 लाख परिवारों को राजस्थान सरकार की और से एक-एक हजार रुपये की दूसरी किश्त जारी कर दी गई है.

  • Share this:

जयपुर. कोरोना महामारी (COVID-9) के चलते आजीविका का संकट झेल रहे प्रदेश के 33 लाख परिवारों को राज्य सरकार ने राहत दी है. इन परिवारों को सम्बल देने के लिए एक-एक हजार रुपए की दूसरी किश्त जारी कर दी गई है. दूसरी किश्त के तौर पर राज्य सरकार द्वारा कुल 330 करोड़ रुपए की राशि जारी की गई है. इनमें से 300 करोड़ रुपए आरआईसीएल और 30 करोड़ रुपए जिला कलेक्टरों को हस्तांतरित भी कर दिए गए हैं. जरूरतमंद परिवारों को यह राशि सीधे बैंक खातों में हस्तांतरित की जाएगी. कोरोना काल में आजीविका का संकट झेल रहे परिवारों को अब तक राज्य सरकार द्वारा 5500-5500 रुपए की सहायता दी जा चुकी है. इन परिवारों को सम्बल देने के लिए राज्य सरकार ने कुल 1 हजार 815 करोड़ रुपए वहन किए हैं.

किन लोगों को मिलेगी राशि?

राज्य सरकार द्वारा जारी की गई यह सहायता राशि ऐसे गरीब और असहाय परिवारों को मिलेगी जिन्हें सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का लाभ नहीं मिल रहा है. थड़ी-ठेला चलाकर गुजारा करने वाले छोटे दुकानदारों के साथ ही रिक्शा चालकों, निर्माण श्रमिकों, बीपीएल, स्टेट बीपीएल, अंत्योदय योजना में शामिल, स्ट्रीट वेंडर आदि को यह सहायता राशि मिलेगी. राज्य सरकार द्वारा इन परिवारों को सहायता राशि की पहली किश्त अप्रैल माह में जारी की जा चुकी है.

इस तरह की गई सहायता
कोरोना से प्रभावित परिवारों को राज्य सरकार ने पहली लहर के दौरान सर्वे करवाया था।. इस सर्वे में करीब 33 लाख जरूरतमंद परिवार चिन्हित किए गए थे जिन्हें यह आर्थिक सहायता दी जा रही है. कोरोना और लॉकडाउन से प्रभावित इन परिवारों को पिछले वित्त वर्ष में 3500-3500 रुपए की सहायता दी गई थी जिस पर राज्य सरकार ने 1 हजार 155 करोड़ की राशि वहन की थी. बाद में मुख्यमंत्री ने इस बार के बजट में इन परिवारों को दो किश्तों में अतिरिक्त सहायता की घोषणा की थी जिसके तहत दूसरी किश्त जारी की गई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज