राजस्थान की राजधानी में अनलॉक हुआ Crime, चोरी और लूट की वारदातों ने बढ़ाई पुलिस की चिंता
Jaipur News in Hindi

राजस्थान की राजधानी में अनलॉक हुआ Crime, चोरी और लूट की वारदातों ने बढ़ाई पुलिस की चिंता
चोरी और लूट की कई वारदातों में जयपुर पुलिस जांच कर रही है. सांकेतिक फोटो.

कोरोना संक्रमण (Corona Infection) से बचने के लिए चरणबद्ध तरीके से किए गए लॉकडाउन (Lockdown) के बाद अब अनलॉक 1.0 (Unlock) में क्राइम (Crime) का ग्राफ भी बढ़ रहा है.

  • Share this:
जयपुर. कोरोना संक्रमण (Corona Infection) से बचने के लिए चरणबद्ध तरीके से किए गए लॉकडाउन (Lockdown) के बाद अब अनलॉक 1.0 (Unlock) में क्राइम (Crime) का ग्राफ भी बढ़ रहा है. राजस्थान की राजधानी जयपुर में लूट और चोरी की वारदातों ने स्थानीय लोगों के साथ पुलिस की भी चिंता बढ़ा दी है. रोजाना चोरियां और स्नैचिंग की वारदाते बढ़ गई. हाल ही में चोरों ने करधनी इलाके में गोकुलपुरा स्थित गोविंद नगर में एक मकान के ताले तोड़कर अलमारी से 5 हजार रुपए व सोने-चांदी के जेवर चुरा लिए. इस संबंध में पीड़ित विशाल यादव ने बीते सोमवार को करधनी थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई है.

जयपुर के प्रताप नगर में चोरों ने जगतपुरा फाटक के पास तीन दुकानों के ताले तोड़कर चोरियां कर ली. इस संबंध में एक दुकानदार टीलावाला निवासी रामबाबू मीणा ने रिपोर्ट दर्ज करवाई कि चोरों ने उनकी दुकान से टायर-ट्यूब व अन्य सामान चुरा लिया. उन्होंने बताया कि चोरों ने उनके पास वाली दो ओर दुकानें के ताले तोड़े है. पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज करके चोरों की तलाश के लिए घटनास्थल के आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगालने में जुटी.

जेवर और मोटर साइकिल भी चोरी
जयपुर के ही शिप्रा पथ थाना इलाके के त्रिवेणी नगर में रहने वाले मुकेश के घर पर अज्ञात बदमाशों ने लाखों रुपए की चोरी की वारदात को अंजाम दिया. पुलिस से शिकायत के मुताबिक बदमाश घर में रखे हुए सोने और चांदी के जेवरात मोबाइल और पार्किंग में खड़ी मोटरसाइकिल चुरा कर फरार हो गए. शिप्रा पथ थाना पुलिस ने इस संबंध में रिपोर्ट ली, लेकिन अभी तक किसी प्रकार की कोई ठोस कार्रवाई नहीं की गई है.
कोरोना का साइड इफेक्ट


चोरी व लूट की घटनाओं पर पुलिस अधिकारी भी दबी जबान में कह रहे हैं कि यह कोरोना के कारण लॉकडाउन व अनलॉक के ही ये साइड इफेक्ट हैं. कमोबेश यही हालात राजधानी जयपुर के ही नहीं पूरे प्रदेश के हैं. प्रदेश में मौजूदा समय के अंदर हर प्रकार के क्राइम में इजाफा होता हुआ दिखाई दे रहा है. ऐसे में राजस्थान पुलिस के सामने बहुत बड़ा चैलेंज है कि कैसे अपराध और अपराधियों को कम किया जा सके. पुलिस मुख्यालय में बैठे अधिकारी भी इसको लेकर समय-समय पर प्लानिंग बनाने का दावा कर रहे हैं. ताकि किसी प्रकार से क्राइम कंट्रोल किया जा सके.

ये भी पढ़ें:
दिल्ली में इस बार समय से पहले पहुंचेगा मानसून, 5 दिनों में देश के इन इलाकों में भी होगी भारी बारिश!

India-China Rift: बेहद खतरनाक है भारत को चीन से जोड़ने वाला ये रास्ता, परेशान होते हैं जवान!
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज