लाइव टीवी

भारत की एकता और अखंडता सुरक्षित है तो इसका श्रेय सेना के जवानों को है: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

News18 Rajasthan
Updated: January 14, 2020, 6:26 PM IST
भारत की एकता और अखंडता सुरक्षित है तो इसका श्रेय सेना के जवानों को है: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह
रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने पूर्व सैनिकों को संबोधित किया.

पूर्व सैनिकों को संबोधित करते हुए यहां रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Defence Minister Rajnath Singh) ने कहा कि भारत अगर आज सुरक्षित है तो इसका पूरा श्रेय सेना के जवानों को जाता है.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान की राजधानी जयपुर स्थित सेना की दक्षिणी पश्चिमी कमान 'सप्तशक्ति' में सोमवार को राष्ट्रीय गौरव सेनानी दिवस (Veterans day) पर विशेष कार्यक्रम का आयोजन हुआ. इसमें रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Defence Minister Rajnath Singh), चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat ) और थल सेना प्रमुख मनोज मुकुंद नरवाने शामिल हुए. पूर्व सैनिकों को संबोधित करते हुए यहां रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ या सीडीएस) पद सृजित करने की प्रेरणा उन्हें पूर्व सैनिकों से ही मिली थी. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि भारत अगर आज सुरक्षित है तो इसका पूरा श्रेय सेना के जवानों को जाता है.

कार्यक्रम में सीडीएस जनरल बिपिन रावत भी मौजूद थे. सिंह ने कहा, ‘सीडीएस पर देश में 20-21 साल से चर्चा चल रही थी. लेकिन रक्षा मंत्री की जिम्मेदारी संभालने के बाद जैसे ही मैंने प्रधानमंत्री से चर्चा की तो उन्होंने क्षण भर की देर नहीं लगाई. उन्होंने हां कह दिया. जून में हमारी उनसे इस पर चर्चा हुई और 15 अगस्त को घोषणा कर दी गयी.’

रक्षामंत्री ने कहा कि ‘भारत आज सुरक्षित है, भारत की सीमाएं, भारत की एकता और अखंडता सुरक्षित है तो इसका पूरा श्रेय भारत आप जैसे बहादुर लोगों को देना चाहता है, देश की सेना के जवानों को देना चाहता है.’ उन्होंने कहा, ‘पूर्व सैनिकों के प्रति सम्मान की परंपरा लंबे समय से इस देश में चली आ रही है. मैं यह भी कहना चाहता हूं कि कोई सैनिक सेना के लिए अपनी सक्रिय सेवा भले ही छोड़ दे मगर सेना को अपने सैनिकों को एक संस्था के रूप में कभी नहीं छोड़ना चाहिए.' (भाषा इनपुट के साथ)


ये भी पढ़ें- 


  • रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, CDS बिपिन रावत और थल सेना प्रमुख नरवाने आज जयपुर में

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 14, 2020, 3:59 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर