नोट की गड्डियां जलाने वाले तहसीलदार को बर्खास्त करने की मांग, कांग्रेस MLA ने कहा- रेयर ऑफ द रेयरेस्ट केस

राजस्थान के सिरोही में नोटों की गड्डियां जलाकर चर्चा में आए तहसीलदार को बर्खास्त करने की मांग उठ रही है.

राजस्थान के सिरोही में नोटों की गड्डियां जलाकर चर्चा में आए तहसीलदार को बर्खास्त करने की मांग उठ रही है.

Rajasthan News: 20 लाख रुपए नोटों की गड्डियां जलाकर चर्चा में आए तहसीलदार को बर्खास्त करने की मांग उठी है. कांग्रेस विधायक भरत सिंह कुन्दनपुर ने इस मामले को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को इस संबंध में पत्र लिखा है.

  • Last Updated: March 25, 2021, 8:58 PM IST
  • Share this:
जयपुर. राजस्थान में रिश्वत में अस्मत मांगने वाले पुलिस अधिकारी को बर्खास्त करने की प्रक्रिया शुरु होने के बाद अब नोटों की गड्डियां जलाने वाले तहसीलदार को बर्खास्त करने की मांग उठी है. कांग्रेस विधायक भरत सिंह कुन्दनपुर ने इसे लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखा है. विधायक ने मामले को रेयर ऑफ रेयरेस्ट बताते हुए तहसीलदार कल्पेश जैन को संविधान के अनुच्छेद 311 के तहत बिना नोटिस बर्खास्त करने की मांग की है.

बता दें कि सिरोही के पिंडवाड़ा में रिश्वतखोरी में पकड़े जाने के डर से तहसीलदार ने अपनी पत्नी के साथ मिलकर करीब 15 से 20 लाख रुपए गैस चूल्हे पर रख जला दिए थे. ACB की टीम ने रेवेन्यू इंस्पेक्टर पर्बत सिंह को एक लाख रुपए की रिश्वत लेते पकड़ा था, जिसने तहसीलदार कल्पेश जैन के लिए रिश्वत लेना स्वीकार किया था. जब एसीबी कल्पेश जैन के घर पहुंची तो उसने घर का दरवाजा बंद कर लिया और नोटों की गड्डियां चूल्हे पर जलाना शुरु कर दिया.

रेयर ऑफ रेयरेस्ट है मामला

सांगोद से कांग्रेस विधायक भरत सिंह ने मुख्यमंत्री को लिखे अपने पत्र में लिखा है कि देश में ऐसी आज तक दूसरी मिसाल नहीं है लिहाजा यह मामला रेयर ऑफ रेयरेस्ट है. उन्होंने कहा कि नोटों को नष्ट करना अपराध है और तहसीलदार कल्पेश जैन ने तो कल्पना से कहीं ज्यादा 20 लाख रुपए के नोटों को अपने बचाव में जलाकर नष्ट कर दिया. उन्होंने अनुच्छेद 311 का इस्तेमाल कर बिना नोटिस, सुनवाई और प्रक्रिया के तहसीलदार को बर्खास्त कने की मांग की.
बता दें कि रिश्वत में अस्मत मांगने वाले पुलिस अधिकारी कैलाश चन्द बोहरा का मामला राज्य सरकार ने रेयर ऑफ रेयरेस्ट बताते हुए उन्हें बर्खास्त करने की प्रक्रिया शुरु की थी. संविधान के अनुच्छेद 311 का इस्तेमाल कर कैलाश चन्द बोहरा को बर्खास्त करने की बात राज्य सरकार ने कही थी. अब यही प्रावधान नोटों की गड्डियां जलाने वाले तहसीलदार पर लागू करने की मांग कांग्रेस विधायक ने की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज