SOG के ADG अनिल पालीवाल के नाम से दो करोड़ रुपये की रिश्वत मांगने का आरोप, केस दर्ज
Jaipur News in Hindi

SOG के ADG अनिल पालीवाल के नाम से दो करोड़ रुपये की रिश्वत मांगने का आरोप, केस दर्ज
रिश्वत मांगने के मामले में एसीबी ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है (प्रतीकात्मक तस्वीर)

एसीबी से मिली जानकारी के अनुसार पीड़ित का आरोप है कि उससे 2 करोड़ रुपए की रिश्वत मांगी गई और पहली किस्त के रूप में 30 लाख रुपए देने को कहा गया. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सत्यपाल और अन्य के खिलाफ अभियोग संख्या 108/ 2020 धारा 7, 7A भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम एवं 120-बी भा.द.स. के तहत मामला दर्ज करके जांच की जारही है.

  • Share this:
जयपुर. राजधानी में आज एसओजी (SOG) में रिश्वत के खेल का चौंकाने वाला मामला सामने आया है. एसओजी के उच्च अधिकारियों के नाम पर रिश्वत मांगने के सनसनीखेज मामले में एसीबी (ACB) में एक शिकायत पर एसओजी के एक अधिकारी के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है.

ये है पूरा मामला
भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो से मिली जानकारी के अनुसार एक शिकायतकर्ता ने एसीबी में रिपोर्ट दी कि 'हमारी एक क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी है. यह सोसाइटी अपने सदस्यों से डिपॉजिट लेने और ऋण देने का काम करती है. सोसाइटी के खिलाफ एक शिकायत पर एसओजी के पुलिस निरीक्षक विष्णु खत्री और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सत्यपाल द्वारा जांच की जा रही है. इस मामले में जांच समाप्त करने और FIR दर्ज नहीं करने के एवज में इन लोगों ने अपने लिए और एसओजी में उच्च अधिकारियों के लिए दो करोड़ की रिश्वत मांगी'.

ये भी पढ़ें- Matrimonial site से की शादी, 4 महीने साथ रहने के बाद गायब हो गया पति, फिर हुआ खुलासा...



दो करोड़ की रिश्वत मांगी
एसीबी से मिली जानकारी के अनुसार इस मामले में पीड़ित का आरोप है कि उससे 2 करोड़ रुपए की रिश्वत मांगी गई और पहली किस्त के रूप में 30 लाख रुपए देने को कहा गया. शिकायत मिलने के बाद एसीबी ने इसका सत्यापन किया. जिसमें एसओजी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सत्यपाल द्वारा एसओजी के एडीजी अनिल पालीवाल के नाम पर रिश्वत की राशि मांगे जाने का आरोप प्रथम दृष्टया सही पाया गया. फिलहाल विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज करके जांच शुरू हो गई है. एसीबी ने इस मामले में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सत्यपाल और अन्य के खिलाफ अभियोग संख्या 108/ 2020 धारा 7,7A भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम एवं 120-बी भा.द.स. के तहत मामला दर्ज कर अनुसंधान किया जा रहा है.

आईपीएस अनिल पालीवाल का हुआ तबादला
इधर शाम को पुलिस महकमे में बड़ा फेरबदल भी हुआ है. कार्मिक विभाग ने 66 आईपीएस अधिकारियों के तबादले कर दिए हैं. एसओजी के एडीजी अनिल पालीवाल का नाम भी तबादला सूची में शामिल है. अनिल पालीवाल को एसओजी से हटा कर एडीजी-कार्मिक बनाया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading