लाइव टीवी

दिल्ली में जीत के लिए अरविंद केजरीवाल को सचिन पायलट ने दी बधाई, जताई ये उम्मीद
Jaipur News in Hindi

News18Hindi
Updated: February 11, 2020, 4:12 PM IST
दिल्ली में जीत के लिए अरविंद केजरीवाल को सचिन पायलट ने दी बधाई, जताई ये उम्मीद
सचिन पायलट ने अरविंद केजरीवाल को बधाई दी है.

राजस्थान के उप मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को बधाई दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 11, 2020, 4:12 PM IST
  • Share this:
जयपुर. राजधानी दिल्ली के विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Elections Result 2020) परिणामों में आम आदमी पार्टी (AAP) को मिली बढ़त पर राजस्थान के उप मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को बधाई दी है. अभी तक के नतीजों में दिल्ली की तस्वीर साफ हो चुकी है कि वहां अरविंद केजरीवाल ही तीसरी बार सरकार बनाने जा रहे हैं. आम आदमी पार्टी को जनता का भरपूर समर्थन मिला है तो बीजेपी दूसरे नंबर पर रही है, जबकि कांग्रेस दिल्ली विधानसभा चुनाव में खाता भी नहीं खोल पाई है. हालांकि, सचिन पायलट ने आम आदमी पार्टी और अरविंद केजरीवाल को जोरदार जीत के लिए बधाई दी है. उन्होंने कहा है कि, 'दिल्ली को इससे बेहतर बनाने के लिए आपको शुभकामनाएं'.श्

पायलट ने कहा, तीखापन होगा खत्म
पायलट ने ट़्विटर पर लिखा है कि 'लोकतंत्र मजबूत हुआ है और उम्मीद है, तीखापन खत्म होगा'. बता दें कि दिल्ली के चुनाव परिणाम आने के साथ ही कांग्रेस नेताओं की प्रतिक्रिया से लग रहा है मानों वे अपनी हार से दुखी नहीं बल्कि आप की जीत से और बीजेपी के सत्ता तक ना पहुंच पाने से खुश हैं. राजस्थान के कांग्रेस नेताओं ने अपनी 'जीरो' उपस्थिति पर बात न करते हुए इन नतीजों के बाद बीजेपी पर निशाना साधना शुरू कर दिया है.



दिल्ली के नतीजों पर कांग्रेस का BJP पर निशाना
दिल्ली में आप को मिले मतदाताओं के समर्थन को कांग्रेस नेता सीधे तौर पर बीजेपी की नाकाम से जोड़ रहे हैं और कुछ नेता तो इसे सीधे-सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह की हार बता रहे हैं. यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल ने कहा, 'सांप्रदायिक भावना फैलाते हुए और पूरी तरह से धूर्विकरण करते हुए बीजेपी ने ये समझा था कि हम सरकार बना लेंगे लेकिन नतीजा कुछ नहीं निकला. जिस तरह से धर्मनिरपक्षता के पक्ष में लोगों ने वोट दिया इससे साफ साफ पता लगता है ये देश कभी धर्मनिरपेक्षता को नहीं छोड़ सकता और साम्प्रदायिक माहौल को बर्दाश्त नहीं कर सकता है. हमें कभी उम्मीद नहीं थी कि हम कभी वहां सरकार बना लेंगे, हम चुनाव जरूर लड़ रहे थे लेकिन बीजेपी के लोग कहते थे कि हम सरकार बनाएंगे'.
ये भी पढ़ें- 

 

Jaipur Today: मिस ओशन इंडिया के ऑडिशन और RU में छात्रसंघ कार्यालय का उद्घाटन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 11, 2020, 4:12 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर