अपना शहर चुनें

States

Digital Children's Fair 2020: ग्रामीण बच्चे दिखा रहे हैं अपनी प्रतिभा, आप भी हो सकते हैं शामिल

'कोरोना के प्रति जागरूकता' थीम पर हो रहे इस डिजिटल बाल मेले में बच्चे पेंटिंग, एक्टिंग, कुकिंग, सिंगिंग, डांसिंग, क्विज़, डिबेट, फैंसी ड्रेस, शॉर्ट फिल्म मेकिंग, कहानी और निबंध लेखन में अपनी प्रतिभा दिखा रहे हैं.
'कोरोना के प्रति जागरूकता' थीम पर हो रहे इस डिजिटल बाल मेले में बच्चे पेंटिंग, एक्टिंग, कुकिंग, सिंगिंग, डांसिंग, क्विज़, डिबेट, फैंसी ड्रेस, शॉर्ट फिल्म मेकिंग, कहानी और निबंध लेखन में अपनी प्रतिभा दिखा रहे हैं.

Digital Children's Fair 2020: 'कोरोना के प्रति जागरूकता' थीम पर हो रहे इस डिजिटल मेले में विभिन्न विधाओं के लिए दस अलग-अलग क्षेत्रों को शामिल किया गया है. इस टैलेंट हंट (Talent Hun) में 6 से 14 साल तक की उम्र के बच्चे घर बैठे ही जुड़ सकते हैं.

  • Share this:
जयपुर. कोरोना महामारी (COVID-19) के बीच लंबे समय से घरों में कैद बच्चों के लिए चलाए जा रहे 'डिजिटल बाल मेला' (Digital Children's Fair) में ग्रामीण बच्चों का विशेष रुझान सामने आया है. राजस्थान के छोटे-छोटे गांवों-ढाणियों से बच्चे अपनी प्रतिभा (Talent) का मंचन बाल मेले के डिजिटल प्लेटफॉर्म पर कर रहे हैं. ग्रामीण क्षेत्रों से बाल मेले में बच्चे बढ़-चढ़कर उत्साह दिखाते हुए कोरोना से जंग लड़ने के लिए अपने क्रिएटिव आइडिया (Creative idea) पेंटिंग, स्लोगन, शॉर्ट स्टोरी और डांस का वीडियो बनाकर डिजिटल प्लेटफॉर्म पर एंट्री शेयर कर रहे हैं.

कोरोना काल में डिजिटल माध्यम से आयोजित हो रहे इस टैलेंट हंट में 6 से 14 साल तक की उम्र के बच्चे घर बैठे ही जुड़ रहे हैं. इस सृजनात्मक प्रतियोगिता में अपेक्षा के अनुरूप राजस्थान के विभिन्न जिलों से बच्चों ने हिस्सेदारी दिखाई है. राज्य के शिक्षा राज्यमंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने 14 नवंबर को डिजिटिल बाल मेले की ऑनलाइन लॉचिंग की थी. मंत्री डोटासरा ने डिजिटल मेला टीम को इस नवाचार के लिये साधुवाद दिया. जलदाय और ऊर्जा मंत्री बीडी कल्ला ने डिजिटल बाल मेले की वेबसाइट की औपचारिक शुरुआत की थी. कल्ला के पोते राघव कल्ला ने पहला वीडियो बनाकर पहला रजिस्ट्रेशन कराया था.

COVID-19: राजस्थान के सभी जिलों में 21 नवंबर से फिर लागू होगी धारा-144

'कोरोना के प्रति जागरूकता' है थीम


उल्लेखनीय है कि 'कोरोना के प्रति जागरूकता' थीम पर हो रहे डिजिटल मेले में विभिन्न विधाओं के लिए दस अलग-अलग क्षेत्रों को शामिल किया गया है. इसमें पेंटिंग, एक्टिंग, कुकिंग, सिंगिंग, डांसिंग, क्विज़, डिबेट, फैंसी ड्रेस, शॉर्ट फिल्म मेकिंग, कहानी और निबंध लेखन में लिटिल कोरोना वॉरियर्स अपनी प्रतिभा को निखार रहे हैं.

ऑनलाइन ले सकते हैं भाग
डिजिटल बाल मेले की किसी भी प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए ऑनलाइन प्रोसेस रखा गया है. इसके लिए वीडियो सबमिट करने की अंतिम तारीख 14 दिसंबर और परिणाम की तिथि 25 दिसंबर, 2020 तय की गई है. जीतने वाले प्रतिभागी को राज्य स्तर पर नगद अवार्ड दिया जाएगा. डिजिटल मेला वेबसाइट www.digitalbaalmela.com और सोशल मीडिया पेज पर प्रतियोगिता और ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन से जुड़ी सभी जानकारियां दी गई हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज