Assembly Banner 2021

Rajasthan: शुरू हुई शराब की दुकानों की ई- नीलामी, पहले चरण में 3262 आवेदक

461 दुकानों के लिये आये सिंगल आवेदक न्यूनतम रिजर्व प्राइस से महज 5 हजार रुपए ज्यादा बोली लगाकर शराब का ठेका हासिल कर सकते हैं. (सांकेतिक फोटो)

461 दुकानों के लिये आये सिंगल आवेदक न्यूनतम रिजर्व प्राइस से महज 5 हजार रुपए ज्यादा बोली लगाकर शराब का ठेका हासिल कर सकते हैं. (सांकेतिक फोटो)

प्रदेश में आज से शराब की दुकानों ((Liquor shops) ) की ई-नीलामी शुरू हो गई है. राजस्थान में पहली बार नई तकनीक (E-auction) से नीलामी हो रही है. प्रथम चरण में कुल 1669 शराब की दुकानों में से 461 के लिये सिंगल आवेदक सामने आये हैं.

  • Share this:
जयपुर. प्रदेश में आज से शराब की दुकानों (Liquor shops) के लिए ई-नीलामी की प्रक्रिया शुरू हो गई है. ई-नीलामी (E-auction) के पहले चरण में आज प्रदेशभर 1669 शराब की दुकानों के लिए बोली लगाई जा रही है. खास बात यह है कि 1669 दुकानों में से 39 दुकानों की नीलामी के लिए एक भी आवेदक नहीं आया है. वहीं 461 दुकानों के लिए सिंगल बिडर ने ही आवेदन किया है. पिछले बरसों के तुलना में इस बार शराब के ठेकों को लेकर ज्यादा उत्साह नजर नहीं आ रहा है.

ऑनलाइन नीलामी के दौरान सर्वर स्लो होने के कारण आवेदकों को कई तकनीकी दिक्कतों का भी सामना करना पड़ रहा है. प्रदेश में पहली शराब की दुकानों के लिये हो रही ऑनलाइन नीलामी के पहले चरण में 3262 आवेदक शामिल हो रहे हैं. इस चरण के लिये 8586 आवेदकों ने रजिस्ट्रेशन करवाया था लेकिन फीस महज 3262 ने ही जमा करवायी है.

461 दुकानों के लिये सिंगल आवेदक सामने आये हैं
शराब की दुकानों की नीलामी एमएसटीसी की वेबसाइट के जरिये की जा रही है. नीलामी के पहले दिन प्रदेशभर की 1669 दुकानों के लिए बोली लगना शुरू हो गया है. 39 दुकानों के लिये कोई आवेदक सामने नहीं आने के कारण 1630 दुकानों के लिए ही बोली लगाई जा रही है. इसमें से भी 461 दुकानों पर सिंगल बिडर ही बोली में शामिल हुए है. इन 461 दुकानों के आवेदक न्यूनतम रिजर्व प्राइस से महज 5 हजार रुपए ज्यादा बोली लगाकर शराब का ठेका हासिल कर सकते हैं.
7665 दुकानों के लिए करीब 30 हजार लोगों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है


आबकारी आयुक्त डॉ.जोगाराम ने बताया कि जिन दुकानों के लिए किसी भी आवेदक ने रुचि नहीं दिखाई है उनकी फिर से नीलामी प्रक्रिया की जायेगी. पूरे प्रदेश में 7665 दुकानों के लिए करीब 30 हजार लोगों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है. इनमें से अब तक 8586 लोगों ने ही आवेदन शुल्क जमा करवाया है. प्रदेश के अन्य जिलों के साथ साथ पहले चरण में जयपुर की भी 81 दुकानों के लिए ई-नीलामी की प्रकिया चल रही है. इनमें से दो दुकानों पर सिंगल बिडर ही शामिल हुए तो कुछ दुकानों पर दो से लेकर 10 बिडर तक निलामी में शामिल हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज