Home /News /rajasthan /

E-Business Portal: राजस्थान सरकार का अभिनव प्रयोग, वन स्टॉप शॉप से मिलेगी ये सुविधायें

E-Business Portal: राजस्थान सरकार का अभिनव प्रयोग, वन स्टॉप शॉप से मिलेगी ये सुविधायें

हैदराबाद में आयोजित 24वें राष्ट्रीय ई-गवर्नेंस सम्मेलन में ई-बिजनेस (बिजनेस टू गवर्नमेंट) विषय पर पेपर प्रस्तुत किया गया था.

हैदराबाद में आयोजित 24वें राष्ट्रीय ई-गवर्नेंस सम्मेलन में ई-बिजनेस (बिजनेस टू गवर्नमेंट) विषय पर पेपर प्रस्तुत किया गया था.

Rajasthan e-business portal: राजस्थान सरकार के ई बिजनेस पोर्टल से अब तक 386 बिजनेस पार्टनर्स, 397 विभाग, 28196 कार्यालय और 4 लाख 57 हजार से अधिक अधिकारी जुड़ चुके हैं. बिजनेस स्टैक होल्डर्स के बीच टू वे कम्युनिकेशन के लिए देश में यह अपनी तरह का पहला प्रयोग है. ई-बिजनेस पोर्टल सुशासन, जवाबदेही और पारदर्शिता (Accountability and Transparenc) की भावना को बढ़ाने में अहम भूमिका निभायेगा.

अधिक पढ़ें ...

जयपुर. जवाबदेही और पारदर्शिता (Accountability and Transparenc) को बढ़ावा देने के लिए राजस्थान सरकार की ओर से ई-बिजनेस पोर्टल (E-Business Portal) डवलप किया गया है. यह पोर्टल राजस्थान सरकार के सभी विभागों और उनसे जुड़े बिजनेस स्टैक होल्डर्स के बीच टू वे कम्युनिकेशन के लिए देश में अपनी तरह का पहला प्रयोग है. मुख्यमंत्री कार्यालय में कार्यरत आईटी ऑफिसर इंचार्ज राजेश सैनी के मुताबिक इस बिजनेस टू वे गवर्नमेंट पोर्टल को सरकार के साथ जुड़े व्यापारिक भागीदारों के लिए वन स्टॉप शॉप के रूप में कार्य करने के लिए बनाया गया है. इससे जवाबदेही और पारदर्शिता को बढ़ावा मिलेगा.

राजेश सैनी के अनुसार अभी स्वायत्त शासन विभाग, ग्रामीण विकास विभाग और सार्वजनिक निर्माण विभाग के साथ ही उदयपुर तथा जोधपुर जिले में पायलट प्रोजेक्ट के रूप में इसे लागू किया जा रहा है. सूचना प्रौद्योगिकी और संचार विभाग की ओर से पिछले दिनों हैदराबाद में आयोजित 24वें राष्ट्रीय ई-गवर्नेंस सम्मेलन में ई-बिजनेस (बिजनेस टू गवर्नमेंट) विषय पर पेपर प्रस्तुत किया गया था.

ई-गवर्नेंस सम्मेलन में किया दिया था पेपर प्रेजेंटेशन
सीएमओ में कार्यरत आईटी ऑफिसर इंजार्ज राजेश सैनी और प्रोजेक्ट ऑफिसर नेहा चौधरी की ओर से यह पेपर प्रस्तुत किया गया. सम्मेलन में विभिन्न राज्यों से 300 से भी अधिक पेपर आए थे. उनमें से कुल 11 पेपरों को चयन किया गया था. इनमें से ई-बिजनेस पेपर को तीसरे स्थान पर रखा गया. राजेश सैनी ने कहा कि सुशासन, जवाबदेही और पारदर्शिता की भावना को बढ़ाने में ई-बिजनेस पोर्टल की अहम भूमिका रहेगी.

अब तक 28 हजार से ज्यादा कार्यालय जुड़े
राजेश सैनी ने कहा कि इस पोर्टल से अब तक 386 बिजनेस पार्टनर्स, 397 विभाग, 28 हजार 196 कार्यालय और 4 लाख 57 हजार से अधिक अधिकारी जुड़ चुके हैं. यह ई-बिजनेस पोर्टल सरकार के विभिन्न विभागों और उनसे जुड़े स्टैक होल्डर्स के लिए वन स्टॉप की तरह काम कर रहा है. इसके माध्यम से विभिन्न प्रकार के कम्युनिकेशन किए जा सकते हैं.

पोर्टल भविष्य में मील का पत्थर साबित होगा
बकौल राजेश सैनी ई-बिजनेस पोर्टल का चयन संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय की ओर से आजादी का अमृत महोत्सव के तहत प्रकाशित ’75 डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन स्टोरीज’ में भी किया गया था. यह पोर्टल भविष्य में मील का पत्थर साबित होगा.

Tags: Jaipur news, Rajasthan latest news, Rajasthan news, Rajasthan News Update

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर