लाइव टीवी

प्रदेश की 25,000 सहकारी समितियों और 144 कृषि मंडियों में जल्द होंगे चुनाव, तैयारियां शुरू

Dinesh Sharma | News18 Rajasthan
Updated: October 24, 2019, 11:25 AM IST
प्रदेश की 25,000 सहकारी समितियों और 144 कृषि मंडियों में जल्द होंगे चुनाव, तैयारियां शुरू
मुख्यमंत्री ने कहा है कि यदि नियमों में या अधिनियम में संशोधन की जरुरत हो तो उसे पूरा किया जाए. फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

प्रदेश के ग्रामीण इलाकों (Rural areas) में एक बार फिर राजनीतिक (Political) हलचलें तेज होने वाली हैं. प्रदेश में 25 हजार सहकारी समितियों (Co-operative societies) और 144 कृषि मंडियों (Agricultural mandis) में जल्द ही चुनाव (Election) संपन्न होंगे. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने चुनाव समय पर (On time) करवाने के निर्देश (Instructions) दिए हैं.

  • Share this:
जयपुर. प्रदेश के ग्रामीण इलाकों (Rural areas) में एक बार फिर राजनीतिक (Political) हलचलें तेज होने वाली हैं. प्रदेश में 25 हजार सहकारी समितियों (Co-operative societies) और 144 कृषि मंडियों (Agricultural mandis) में जल्द ही चुनाव (Election) संपन्न होंगे. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने प्रदेश की सभी सहकारी समितियों और कृषि मंडियों के चुनाव समय पर (On time) करवाने के निर्देश (Instructions) दिए हैं. इसके लिए निर्वाचन प्राधिकरण (Election authority) की नियुक्ति (Appointment) भी कर दी गई है.

निर्वाचन प्राधिकरण की नियुक्ति हुई
मुख्यमंत्री ने बुधवार को सीएमओ में कृषि और सहकारिता विभाग की समीक्षा बैठक ली. मुख्यमंत्री ने कहा है कि यदि नियमों में या अधिनियम में संशोधन की जरुरत हो तो उसे पूरा किया जाए. उन्होंने कहा कि समय पर चुनाव होने से लोकतांत्रिक विकेन्द्रीकरण की भावना को मजबूती मिलेगी. प्रदेश में 25 हजार सहकारी समितियों और 144 कृषि मंडियों में चुनाव होने हैं. सहकारी समितियों के समय पर चुनाव करवाने के लिए सहकारिता विभाग ने राज्य सहकारी निर्वाचन प्राधिकरण में निर्वाचन प्राधिकरण की नियुक्ति भी कर दी है. इससे अब चुनाव की तैयारियां जल्द ही जोर पकड़ेंगी.

फसली ऋण वितरण में धन की कमी नहीं आने दी जाएगी

बैठक में मुख्यमंत्री ने किसानों की सुविधा के लिए ग्राम सेवा सहकारी समितियों पर कृषि आदान उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए हैं. इसके साथ ही किसानों को समर्थन मूल्य पर फसल बेचान में भी किसी तरह की दिक्कत नहीं आने देने के निर्देश दिए गए हैं. मुख्यमंत्री ने यह भी कहा है कि रबी सीजन में फसली ऋण वितरण में किसानों के लिए धन की कमी नहीं आने दी जायेगी. उन्होंने ज्यादा से ज्यादा नए किसानों को फसली ऋण प्रक्रिया से जोड़ने के भी निर्देश दिए हैं.

बैठक में ये भी रहे मौजूद
बैठक में कृषि मंत्री लालचंद कटारिया, सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना और मुख्य सचिव डीबी गुप्ता समेत अन्य  आला अधिकारी भी मौजूद रहे.
Loading...

सरकारी स्कूलों के स्टूडेंट्स भी अब मुफ्त हवाई यात्रा करेंगे, यह है योजना

कांग्रेस: चुनाव मॉनिटरिंग सेल ने पकड़ी राजस्थान के नेताओं की कारस्तानी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 24, 2019, 11:19 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...