राजस्थान: बंगला खाली नहीं किया तो पूर्व मंत्रियों को राेज देने होंगे 10,000 रुपए, विधेयक पास

राजस्थान की गहलोत सरकार ने सरकारी बंगलों पर कब्जा जमाए बैठे पूर्व मंत्रियों के खिलाफ सख्ती दिखाते हुए शुक्रवार को विधानसभा में राजस्थान मंत्री वेतन संशोधन विधेयक पारित कर दिया.

Goverdhan Chaudhary | News18 Rajasthan
Updated: August 2, 2019, 5:58 PM IST
राजस्थान: बंगला खाली नहीं किया तो पूर्व मंत्रियों को राेज देने होंगे 10,000 रुपए, विधेयक पास
विधानसभा में सर्वदलीय बैठक में स्पीकर, मुख्यमंत्री और यूडीएच मंत्री. (फाइल फोटो)
Goverdhan Chaudhary | News18 Rajasthan
Updated: August 2, 2019, 5:58 PM IST
राजस्थान की गहलोत सरकार ने सरकारी बंगलों पर कब्जा जमाए बैठे पूर्व मंत्रियों के खिलाफ सख्ती दिखाते हुए शुक्रवार को विधानसभा में राजस्थान मंत्री वेतन संशोधन विधेयक पारित कर दिया. अब बंगला खाली नहीं करने पर पूर्व मंत्रियों को रोजाना 10 हजार रुपए देने होंगे. इस संशोधित विधेयक को बहस के बाद पारित कर दिया गया है. संसदीय कार्यमंत्री  शांति धारीवाल ने इसे लेकर कहा है कि कार्यकाल पूरा होने के बाद भी कई मंत्री जबरदस्ती बंगलों पर कब्जा किए रहते हैं, इसके कारण नए मंत्रियों को बंगले नहीं मिल पाते. अब नई व्यवस्था के तहत तय समय के बाद भी यदि वे बंगला खाली नहीं करेंगे तो पुलिस के सहयोग से खाली करवाने का प्रावधान भी रखा गया है.

ये भी पढ़ें- बिजली बिल पर मिलेगा ये 5 स्टार AC, 8500 रुपए की भी होगी छूट

5 हजार महीना से 10 हजार रुपए प्रतिदिन किया किराया
राज्य सरकार के पूर्व मंत्रियों से अब तक बंगला खाली नहीं करने की स्थिति में 5 हजार रुपए प्रतिमाह वसूले जाने की व्यवस्था थी. इस इसकी जगह अब नए विधेयक में 10 हजार रुपए प्रतिदिन किराया वसूलना तय किया गया है.

2 महीने बाद बंगला खाली, नहीं तो पुलिस का दखल
पद से हटने के दो माह के भीतर सरकारी आवास खाली नहीं करने पर अब प्रतिदिन किराया वसूलने के साथ ही पुलिस के दखल की भी व्यवस्था की गई है. राजस्थान मंत्री वेतन (संशोधन) विधेयक, 2019 के तहत अब लंबे समय तक सरकारी आवास खाली नहीं करने पर पुलिस की मदद भी ली जा सकेगी.
First published: August 2, 2019, 4:35 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...