Rajasthan: फसल बीमा का दावा करने वाले किसानों को जल्द मिलेगा क्लेम, सरकार कर रही है यह तैयारी
Jaipur News in Hindi

Rajasthan: फसल बीमा का दावा करने वाले किसानों को जल्द मिलेगा क्लेम, सरकार कर रही है यह तैयारी
रबी सीजन में 1 सितंबर से 31 मार्च तक ब्याजमुक्त फसली ऋण दिया जाएगा. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान कई तरह की तकलीफें झेल चुके राजस्थान (Rajasthan) के किसानों को बड़ी राहत (Big Relief) मिली है. प्रदेश के 13 लाख से अधिक किसानों को अपने अटके हुए बीमा क्लेम (Insurance claim) का भुगतान कर दिया गया है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
जयपुर. लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान कई तरह की तकलीफें झेल चुके राजस्थान (Rajasthan) के किसानों को बड़ी राहत (Big Relief) मिली है. प्रदेश के 13 लाख से अधिक किसानों को अपने अटके हुए बीमा क्लेम (Insurance claim) का भुगतान कर दिया गया है. कृषि मंत्री लालचन्द कटारिया के मुताबिक खरीफ-2019 का 91 फीसदी बीमा क्लेम अब तक वितरित किया जा चुका है.

खरीफ-2019 में कुल 2 हजार 496 करोड़ रुपए के बीमा क्लेम का आंकलन किया गया था. इसमें से 2 हजार 261 करोड़ रुपए के क्लेम का वितरण किसानों को किया जा चुका है. यह कुल क्लेम का करीब 91 प्रतिशत है. बीमा क्लेम मिलने से 13 लाख बीमित काश्तकार लाभान्वित हुए हैं. कटारिया के मुताबिक लॉकडाउन के दौरान विपरीत परिस्थितियों के बावजूद किसानों को 2 हजार 386 करोड़ का क्लेम भुगतान करवाया गया है.

14 जिलों में पूरा भुगतान
कृषि मंत्री लालचन्द कटारिया के अनुसार प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत खरीफ-2019 में क्लेम वितरण की कार्रवाई की जा रही है. अब तक प्रदेश के 14 जिलों में पूरा क्लेम वितरित किया जा चुका है जबकि अन्य 14 जिलों में बीमा क्लेम में से अधिकांश का भुगतान हो चुका है. शेष पांच जिलों के बकाया बीमा क्लेम के भुगतान की कार्रवाई की जा रही है और जल्द ही पात्र बीमित काश्तकारों को उनका बीमा क्लेम मिल जाएगा.



डेढ़ साल में 6041 करोड़ का क्लेम


किसानों को बीमा क्लेम का भुगतान लगातार जारी है. कृषि मंत्री के मुताबिक 1 जनवरी 2019 से अब तक किसानों को 6 हजार 41 करोड़ के बीमा क्लेम का वितरण किया गया है. इस बीमा क्लेम वितरण से 42 लाख 31 हजार बीमित किसानों को लाभ मिला है. गौरतलब है कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत किसानों को प्रीमियम के तौर पर बहुत छोटी राशि देनी होती है और शेष प्रीमियम केंद्र और राज्य सरकार आधा-आधा वहन करती है. विधानसभा सत्र के दौरान किसानों को बीमा क्लेम का भुगतान नहीं होने का मामला जोर-शोर से उठा था.

SHO suicide case: CBI की जांच में कई चेहरे होंगे बेनकाब- राजेन्द्र राठौड़

Rajasthan Weather update: हनुमानगढ़, नागौर और पुष्कर में बरसे बादल
First published: June 5, 2020, 9:19 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading