होम /न्यूज /राजस्थान /Jaipur : मलाई बरफी कितने की... बादाम के क्या दाम? आपको पता है किस भाव पड़ेगा त्योहार का स्वाद?

Jaipur : मलाई बरफी कितने की... बादाम के क्या दाम? आपको पता है किस भाव पड़ेगा त्योहार का स्वाद?

जयपुर में मिठाइयों, फलों व मेवाओं के दाम तेज़ी से उछल रहे हैं.

जयपुर में मिठाइयों, फलों व मेवाओं के दाम तेज़ी से उछल रहे हैं.

दीवाली से पहले ही बाज़ारों में तैयारियां ज़ोरों पर हैं. लेकिन इस बार खास तौर से खाने-पीने की खरीदारी में आपकी जेब में महं ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट – लोकेश कुमार ओला

जयपुर. कोरोना संक्रमण के दो साल बाद त्योहारों की रौनक पहले जैसी लौटने लगी है लेकिन खरीदार यही कहेंगे कि कीमतें पहले जैसी नहीं हैं. नवरात्रि और दशहरे के बाद के दौरान बाज़ारों में जमकर खरीदारी हुई. इधर, खाद्य पदार्थो की डिमांड बढ़ते ही चीज़ें महंगी हुईं. बीते साल के मुकाबले कीमतों में 10 से लेकर 35 फीसदी की बढ़ोतरी दिख रही है. त्योहारी सीज़न में मिठाइयों के दाम तेज़ी से बढ़ रहे हैं, तो मेवाओं की कीमतें 15 फीसदी तक बढ़ी हैं. नवरात्रि पर फलों की मांग बढ़ने के कारण इनकी कीमतें भी 35 फीसदी उछली हैं और सब्ज़ियों के दामों में भी उछाल है.

त्योहारी सीज़न में मिठाइयों में मिलावट की शिकायतों को देखते हुए इस साल ड्राईफ्रूट की डिमांड 20 फीसदी ज़्यादा है. हालांकि मिठाइयों की मांग में भी बढ़ोतरी हुई है. चांदपोल बाज़ार के होलसेल व्यापारी हिमांशु जैन ने बताया कि इस वर्ष ड्राई फ्रूट की डिमांड अधिक है. इस सीज़न में ड्राई फ्रूट10 से 15 फीसदी तक आगे से ही महंगे आ रहे हैं. होलसेल रेट और खुदरा माल में ही कीमते बढ़ गई हैं. हालांकि ग्राहक भी पिछले साल के मुकाबले अधिक आ रहे हैं. यानी दो साल बाद व्यापारियों की बल्ले-बल्ले है.

ड्राई फ्रूट के होलसेल – खुदरा मूल्य

बादाम: 600 – 700
काजू: 700 – 800
अखरोट: 550 – 700

जयपुर में मिठाइयों के भाव

पेड़ा – 380 रुपए
चमचम – 300 रुपए
रसगुल्ला – 300 रुपए
रसमलाई – 400 रुपए
प्लेन पेड़ा – 400 रुपए
मलाई चाप – 400 रुपए
मिल्क केक – 480 रुपए
मलाई बरफी – 480 रुपए
अजीर बरफी – 480 रुपए
बंगाली मिठाई – 400 रुपए
कश्मीरी कली – 400 रुपए
दिलखुश पाकीजा – 400 रुपए
(ये दाम प्रति किलो के अनुसार और औसत आधार पर हैं)

मिठाई कारोबारियों का कहना है कि दूध सहित कच्चे माल के दाम बढ़ने से मिठाइयां 5 प्रतिशत महंगी हुई हैं. दीवाली तक और तेज़ी आएगी. मिठाई मावा कारोबारी पंकज खंडेलवाल ने बताया कि गैस के दाम, डीज़ल के दाम बढ़े हैं. साथ ही लम्पी बीमारी के चलते दूध की कमी हुई है. दामों में बढ़ोतरी के ये बड़े कारण हैं. बीते दिनों घी की कीमतें बढ़ने से भी माबे की मिठाइयां 20 फीसदी तक महंगी हो गई हैं.

फल-सब्ज़ियों के दाम भी आसमान पर

जयपुर फल व सब्ज़ी थोक विक्रेता संघ के अध्यक्ष राहुल तंवर ने बताया कि इस समय जयपुर और आसपास से फल सब्ज़ियों की आवक कम है इसलिए कीमतें बढ़ी हैं. दीवाली के बाद स्थानीय माल आने पर कीमतें कम होने की संभावना है. इस समय थोक मंडी में फूल 60 से 70, पत्ता गोभी 80, टमाटर 25, शिमला मिर्च 70, सेब 70 से 100, अनार 120 से 180, केला 25 रुपये प्रति किलो के भाव से आ रहा है.

Tags: Jaipur news, Price Hike

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें