दलित बेटी पूजा वर्मा ने राजस्थान के छात्रसंघ चुनाव में रचा इतिहास

राजस्थान में छात्र राजनीति (Student Politics) का केंद्र माने जाने वाले राजस्थान विश्वविद्यालय (Rajasthan University) में पहली बार एक दलित बेटी (Pooja Verma) ने अध्यक्ष पद का चुनाव जीता है. यही नहीं एक बार फिर प्रमुख छात्र संगठनों (NSUI और ABVP) को परास्त कर निर्दलीय ने अपना दमखम दिखाया है.

News18Hindi
Updated: August 30, 2019, 7:45 PM IST
दलित बेटी पूजा वर्मा ने राजस्थान के छात्रसंघ चुनाव में रचा इतिहास
राजस्थान यूनिवर्सिटी में पहली बार एक दलित छात्रा अध्यक्ष पद पर निर्वाचित हुई है. (फोटो- पूजा वर्मा, फेसबुक पेज से साभार)
News18Hindi
Updated: August 30, 2019, 7:45 PM IST
राजस्थान में छात्र राजनीति (Student Politics) का केंद्र माने जाने वाले राजस्थान विश्वविद्यालय (Rajasthan University) में पहली बार एक दलित बेटी पूजा वर्मा (Pooja Verma) ने अध्यक्ष पद का चुनाव जीता है. इस जीत के पीछे पांच साल पहले पूजा की हार और उस हार के बाद फिर जीतने की जिद छिपी हुई है. दरअसल, पांच साल पहले पूजा ने राजस्थान यूनिवर्सिटी के महारानी कॉलेज (University Maharani College) में अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ा था और हार गई थीं. उस हार के बाद पूजा ने अपनी जमीन तैयार करना शुरू किया और पांच साल तक जमकर मेहनत की. आखिरकार वो सफल रहीं और प्रमुख छात्र संगठनों (NSUI और ABVP) के प्रत्याशियों को परास्त कर निर्दलीय के रूप में अपना दमखम दिखाया.

NSUI ने नकारा, पूजा ने बगावत कर निर्दलीय चुनाव लड़ा 

पूजा वर्मा लंबे समय से राजस्थान विश्वविद्यालय में बतौर एनएसयूआई कार्यकर्ता सक्रिय रही हैं लेकिन चुनाव से ठीक पहले उन्होंने संगठन से बगवात कर दी. दरअसल, संगठन ने पूजा की अध्यक्ष पद पर चुनाव लड़ने की मांग काे दरकिनार करते हुए उसके प्रतिनिधित्व का नकार दिया. ऐसे में पूजा ने निर्दलीय चुनाव लड़ने का फैसला लिया और सफल भी रहीं.

pooja verma, rajasthan university
पूजा वर्मा ने गरीब की बेटी के रूप में छात्रसंघ चुनाव में अपना प्रचार किया. (फोटो- फेसबुक पेज से साभार.)


दूसरी महिला अध्यक्ष और पहली दलित महिला

पूजा वर्मा से पहले राजस्थान यूनिवर्सिटी में 8 साल पहले 2011 में प्रभा चौधरी छात्रसंघ चुनाव में अध्यक्ष पद पर विजयी हुई थी. प्रभा के नाम आयू की पहली महिला अध्यक्ष बनने का रिकॉर्ड दर्ज है. जबकि पूजा वर्मा दूसरी महिला अध्यक्ष बनीं है जबकि पहली बार दलित महिला अध्यक्ष बनने का रिकॉर्ड कायम किया है.

आरयू में पहली बार महिला शक्ति का दमखम
Loading...

राजस्थान यूनिवर्सिटी में छात्रसंघ चुनाव के परिणाम इसबार महिला शक्ति के पक्ष में रहे. अध्यक्ष समेत तीन पदों पर लड़कियों ने जीत हासिल की. निर्दलीय पूजा जहां अध्यक्ष बनीं वहीं एनएसयूआई की प्रियंका मीणा उपाध्यक्ष और एबीवीपी की किरण मीणा को संयुक्त सचिव निर्वाचित किया गया.

ये भी पढ़ें-  चुनाव जीतने के बाद पूजा वर्मा सोशल मीडिया पर क्यों ट्रोल हुईं 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 30, 2019, 7:40 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...