मूसलाधार बारिश से जयपुर में बाढ़ जैसे हालात, सड़कें पानी में डूबीं, घरों में घुसा बारिश का पानी
Jaipur News in Hindi

मूसलाधार बारिश से जयपुर में बाढ़ जैसे हालात, सड़कें पानी में डूबीं, घरों में घुसा बारिश का पानी
जयपुर के एक इलाके में शहर में इतना पानी जमा हुआ कि कारें डूब गईं.

अर्जुन नगर, जेपी अंडरपास (Underpass) में पानी भरने से वाहनों को रोक दिया गया. तो वहीं, करतारपुरा नाले में भी बहाव तेजी पर रहा. निचले इलाकों में जलभराव के कारण घरों में भी पानी भर आया. दफ्तरों और दुकानों में बेसमेंट में पानी भरने की शिकायतें मिलीं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 14, 2020, 10:56 PM IST
  • Share this:
जयपुर. राजधानी में आज सुबह से हो रही मूसलाधार बारिश (heavy rainfall) ने सड़कों को दरिया बना दिया. शहर में सुबह नौ बजे से शुरू हुई बारिश लगातार जारी है. दफ्तर जाने के समय के दौरान बारिश ने लोगों की रफ्तार एकबारगी कम कर दी. सुबह हल्की बारिश से शुरुआत और एक घंटे हुई मूसलाधार से जयपुर की सड़कें दरिया जैसी बहती नजर आईं. शहर के विभिन्न इलाकों में जलभराव (Water logging) की समस्या साफ तौर पर सामने आई.

ट्रैफिक रोका गया

अर्जुन नगर, जेपी अंडरपास में पानी भरने से वाहनों को रोक दिया गया. तो वहीं, करतारपुरा नाले में भी बहाव तेजी पर रहा. निचले इलाकों में जलभराव के कारण घरों में भी पानी भर आया. दफ्तरों और दुकानों में बेसमेंट में पानी भरने की शिकायतें मिलीं. शहर के वीआईपी कहे जाने वाले सिविल लाइंस, स्टेच्यू सर्किल, अम्बेडकर सर्किल और विधानसभा पर भी जलभराव से कई दोपहिया वाहन खराब हुए. कई जगहों पर पानी में गाड़ियों को उतारने से नुकसान भी झेलना पड़ा. बाइस गोदाम स्थित आलू फैक्ट्री के नजदीक राजफेड कार्यालय की दीवार गिरने से कार क्षतिग्रस्त हो गई. शहर की कच्ची बस्तियों में पानी भरने की समस्या सामने आई. झालाना, जवाहर नगर और कठपुतली नगर कच्ची बस्तियों में लोगों ने घरों में भरे पानी के निकलने का देर तक इंतजार किया.



स्टेडियम की दीवार ढही
विधानसभा के नजदीक एसएमएस स्टेडियम की दीवार ढहने से यहां बड़ा हादसा होने से टल गया. इस पर पुलिस ने यहां स्थिति संभाली. राजधानी के कई सरकारी दफ्तरों में पानी भर आया. राजस्थान यूनिवर्सिटी के मुख्य द्वार के दोनों गेटों पर पानी भर गया, जिससे आने-जाने वालों को परेशानियों का सामना करना पड़ा. दरअसल विश्वविद्यालय के द्वारों पर हल्की बारिश होने पर भी पानी भर जाता है, शुक्रवार को जयपुर में बाढ़ जैसी बारिश हुई है, तो यहां पानी भरना ही था. विश्वविद्यालय प्रशासन ने ड्रेनेज व्यवस्था नहीं की है, जिससे कि यहां पर पानी भर जाता है. वहीं आरयू के कई विभागों में भी पानी भरा. जूलॉजी विभाग के एलएस स्वामी हॉल में पानी भर गया तो वहीं इतिहास विभाग में बारिश के चलते दीवार से प्लास्टर झड़ा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज