लाइव टीवी

पूर्व गृहमंत्री दिग्विजय सिंह उनियारा का निधन, आज होगा अंतिम संस्कार

News18 Rajasthan
Updated: October 29, 2019, 12:31 PM IST
पूर्व गृहमंत्री दिग्विजय सिंह उनियारा का निधन, आज होगा अंतिम संस्कार
टोंक जिले के उनियारा के पूर्व राज परिवार के सदस्य दिग्विजय सिंह करीब 2 सप्ताह से जयपुर के निजी अस्पताल में भर्ती थे. सिंह उनियारा से 6 बार विधायक रहे थे. फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

पूर्व गृहमंत्री दिग्विजय सिंह उनियारा (Former Home Minister Digvijay Singh Uniyara) का निधन हो गया है. सिंह ने सोमवार रात को राजधानी जयपुर (Jaipur) के एक निजी अस्पताल में अंतिम सांस (Last breath) ली. सिंह 85 वर्ष के थे. सिंह उनियारा से 6 बार विधायक (MLA) रहे थे.

  • Share this:
जयपुर/टोंक. पूर्व गृहमंत्री दिग्विजय सिंह उनियारा (Former Home Minister Digvijay Singh Uniyara) का निधन हो गया है. सिंह ने सोमवार रात को राजधानी जयपुर (Jaipur) के एक निजी अस्पताल में अंतिम सांस (Last breath) ली. सिंह 85 वर्ष के थे. सिंह उनियारा से 6 बार विधायक (MLA) रहे थे. सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) और डिप्टी सीएम सचिन पायलट समेत कई नेताओं ने सिंह के निधन पर दुख (sorrow) व्यक्त किया है. मंगलवार को दोपहर 1:00 बजे उनियारा में सिंह का अंतिम संस्कार (Funeral) किया जाएगा.

उनियारा से 6 बार विधायक रहे
टोंक जिले के उनियारा के पूर्व राज परिवार के सदस्य दिग्विजय सिंह करीब 2 सप्ताह से जयपुर के निजी अस्पताल में भर्ती थे. सिंह उनियारा से 6 बार विधायक रहे. वे 1962 और 1967 में स्वतंत्र पार्टी से विधायक बने. 1977 और 1985 में जनता पार्टी के बैनर तले उन्होंने विधानसभा चुनाव जीता. 1990 में गैर कांग्रेस के नारे के साथ जनता दल से विधायक बने. 23 अप्रैल, 1933 को जन्मे सिंह ने मेयो स्कूल से शिक्षा ग्रहण की थी.

गैर कांग्रेसवाद की राजनीति के परौकार थे

आजीवन गैर कांग्रेसवाद की राजनीति करते रहे दिग्विजय सिंह ने 1998 में कांग्रेस के टिकट पर विधानसभा चुनाव जीता था. जयपुर की पूर्व राजमाता स्वर्गीय गायत्री देवी के निर्देश पर राजनीति में सक्रिय हुए दिग्विजय सिंह हमेशा अपनी समाजवादी विचारधारा के लिए जाने जाते रहे हैं. वे गायत्री देवी के विश्वासपात्र नेताओं में शामिल थे.

जनता दल (दिग्विजय) का किया था गठन
दिग्विजय सिंह ने भैरों सिंह शेखावत की सरकार को बचाने के लिए दल बदल के जरिए जनता दल (दिग्विजय) गठन किया था. जनता दल (दिग्विजय) के जरिए दिग्विजय सिंह उनियारा और भंवरलाल शर्मा सरदारशहर ने शेखावत की सरकार बचाई थी. उसके बाद दिग्विजय सिंह ने कांग्रेस के साथ मिलकर भी राजनीति की थी. गायत्री देवी की स्वतंत्र पार्टी से राजनीति की शुरुआत करने वाले सिंह जनता पार्टी और जनता दल (दिग्विजय) के जरिए राजनीति करते हुए कांग्रेस में आए थे.
Loading...

 



 



EWS Reservation: CM गहलोत ने PM को लिखा पत्र, कहा- राजस्थान फॉर्मूला लागू करे

EWS आरक्षण से भूमि और भवन संबंधी प्रावधान हुआ खत्म, अधिसूचना जारी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 29, 2019, 11:45 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...