चौथी बार टली REET परीक्षा, शिक्षामंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा- 20 जून को नहीं हो पाएगी परीक्षा

राजस्थान के शिक्षामंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि कोविड संक्रमण को देखते हुए 20 जून को कराना संभव नहीं है.

राजस्थान के शिक्षामंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि कोविड संक्रमण को देखते हुए 20 जून को कराना संभव नहीं है.

20 जून को प्रस्तावित REET शिक्षक भर्ती परीक्षा चौथी बार भी नियत तिथि पर नहीं कराई जा सकेगी. कोरोना संक्रमण के कारण और ईडब्लूएस वर्ग को दोबारा आवेदन के लिए मौका देने के कारण एक बार फिर से परीक्षा टाली जाएगी.

  • Last Updated: May 9, 2021, 11:52 PM IST
  • Share this:

जयपुर. राजस्थान में 20 जून को प्रस्तावित REET शिक्षक भर्ती परीक्षा चौथी बार भी नियत तिथि पर नहीं कराई जा सकेगी. कोरोना संक्रमण के कारण और ईडब्लूएस वर्ग को दोबारा आवेदन के लिए मौका देने के कारण एक बार फिर से परीक्षा टाली जाएगी. इस परीक्षा का राज्य के करीब 16 लाख बेरोजगार अभ्यर्थियों को इंतजार हैं. राज्य में यदि किसी भर्ती परीक्षा का सबसे ज्यादा इंतजार है तो वह है 31 हजार पदों पर होने वाली थर्ड ग्रेड शिक्षक भर्ती एवं पात्रता परीक्षा रीट. मौजूदा समय में यह परीक्षा 20 जून को प्रस्तावित थी. लेकिन राज्य में कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए जिस प्रकार के आसार नजर आ रहे थे.

इस परीक्षा को बीस जून को भी स्थगित करना पडा हैं। शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा का कहना है कि  कोरोना तेजी से फैल रहा है और मौजूदा समय में राज्य की प्राथमिकता महामारी पर नियंत्रण की हैं। ऐसे में ऐसे में वर्तमान हालातों में देखते हुए साथ ही इस परीक्षा के लिए ईडब्लूएस के अभ्यर्थियों को अभी आवेदन का मौका देने के कारण बीते दिनों जारी की गई  रीट परीक्षा 20 जून को नहीं कराई जा सकती.

REET के लिए 16 लाख अभ्यर्थी कर चुके हैं आवेदन 

शिक्षा राज्यमंत्री गोविंदसिंह डोटासरा ने कहा कि मुख्यमंत्री ने ESW वर्ग के अभ्यर्थियों को आयु सीमा व शुल्क में छूट दी थी. जिसके चलते रीट को 25 अप्रैल से आगे खिसकाया गया था. ईडब्ल्यूएस वर्ग के अभ्यर्थियों को आवेदन करने का एक और मौका दिया जाएगा. एक लंबे अर्से से अभ्यर्थी यह सवाल पूछ रहे हैं कि यह परीक्षा कब होगी? लेकिल डेढ़ साल में यह परीक्षा अपनी नियत तिथियों पर नहीं हो सकी. रीट के लिए अभी तक 16 लाख अभ्यर्थी आवेदन कर चुके हैं. ईडब्ल्यूएस वर्ग के लिए एक बार और आवेदन लिए जाएंगे. ऐसे में अभ्यर्थियों की संख्या में इजाफा होगा.
परीक्षा का इंतजार कर रहे अभ्यर्थियों की निकल रही पात्रता 

सबसे पहले रीट परीक्षा 2 अगस्त 2020 को कराने की घोषणा की थी. फिर कोविड के चलते 2 सितंबर 2020 पर टाली गई. तब भी किन्हीं कारणों की वजह से नहीं कराई जा सकी. इसके बाद इसके रीट 25 अप्रैल को कराने की घोषणा की गई, लेकिन महावीर जयंती और ईडब्ल्यूएस वर्ग को आयु सीमा व फीस में रियायत के चलते दोबारा आवेदन लिए जाने थे तब रीट 20 जून को कराना तय किया गया था. इस परीक्षा को लेकर इंतजार कर रहे अभ्यर्थियों में निराशा हुई है. जिसकी वजह है सरकार बार-बार परीक्षा तिथि को आगे टालना. इस परीक्षा के आगे बढने से पहले ही कई अभ्यर्थी अपनी रीट सर्टिफिकेट की पात्रता खो चुके हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज