अस्थि विसर्जन के लिए नि:शुल्क बसें, राजस्थान और उत्तराखंड सरकार में बनी सहमति

अशोक गहलोत सरकार ने इन विशेष बसों को नि:शुल्क चलाने की घोषणा की है. (फाइल फोटो)
अशोक गहलोत सरकार ने इन विशेष बसों को नि:शुल्क चलाने की घोषणा की है. (फाइल फोटो)

राजस्थान (Rajasthan) से हरिद्वार (Haridwar) तथा अन्य अस्थि विसर्जन स्थलों के लिए प्रतिदिन 4 या 5 बसें संचालित होंगी. ये बसें शुरू में राज्य के सम्भागीय मुख्यालयों से तथा बाद में आवश्यकतानुसार जिला मुख्यालयों से चलाई जाएंगी.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) में लॉकडाउन (Lockdown) लागू होने के बाद बहुत से लोग दिवंगत हो चुके हैं. ऐसे लोगों की अस्थियों का विसर्जन अब उनके परिवारीजन हरिद्वार जाकर कर सकेंगे. इसके लिए चलाई जाने वाली विशेष बसों को लेकर राजस्थान और उत्तराखंड सरकार में सहमति बन गई है. राजस्थान सरकार ने इन विशेष बसों को नि:शुल्क चलाने की घोषणा की है.

परिवार के दो या तीन सदस्य करेंगे निशुल्क यात्रा
अधिकारियों ने बताया कि राजस्थान सरकार के आग्रह पर उत्तराखंड सरकार ने अस्थि विसर्जन के लिए बसों के आवागमन की सहमति दे दी है. इससे शोक संतप्त परिजन अस्थि विसर्जन स्थलों पर जा सकेंगे. अधिकारी इस संबंध में उत्तर प्रदेश सरकार से सहमति लेने के लिए भी प्रयास कर रहे हैं. अस्थि विसर्जन के लिए किसी भी परिवार के दो या तीन सदस्य इन विशेष बसों में निःशुल्क यात्रा कर सकेंगे.

संचालित होंगी प्रतिदिन 4 या 5 बसें
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा शुक्रवार को की गई समीक्षा बैठक में यह जानकारी दी गई. अतिरिक्त मुख्य सचिव (उद्योग) सुबोध अग्रवाल ने बैठक में बताया कि अब राजस्थान से हरिद्वार तथा अन्य अस्थि विसर्जन स्थलों के लिए प्रतिदिन 4 या 5 बसें संचालित होंगी. ये बसें शुरू में राज्य के सम्भागीय मुख्यालयों से तथा उसके बाद आवश्यकतानुसार जिला मुख्यालयों से चलाई जाएंगी. इससे पहले गहलोत ने इस तरह की विशेष बसें चलाने की घोषणा की थी.



ये भी पढ़ें - 

योगी ने दिया विकास का विजन: सड़क बनाने को गोरखनाथ मंदिर की दीवार और 50 दुकानें तोड़ी गईं

COVID-19: रेल भवन में तीसरा मामला, रेलवे की वरिष्ठ अधिकारी कोरोना से संक्रमित
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज