होम /न्यूज /राजस्थान /Jaipur News: गहलोत ने कटारिया को दी नसीहत, कहा- अब उनकी उम्र हो गई है, मार्गदर्शन कमेटी में चले जाना चाहिये

Jaipur News: गहलोत ने कटारिया को दी नसीहत, कहा- अब उनकी उम्र हो गई है, मार्गदर्शन कमेटी में चले जाना चाहिये

गहलोत ने कहा कि उन्होंने आगामी बजट की तैयारियां शुरू कर दी है. बकौल गहलोत गुड गवर्नेंस को आधार बनाकर हम लोग क्या फैसले कर सकते हैं वो करने की कोशिश करेंगे.

गहलोत ने कहा कि उन्होंने आगामी बजट की तैयारियां शुरू कर दी है. बकौल गहलोत गुड गवर्नेंस को आधार बनाकर हम लोग क्या फैसले कर सकते हैं वो करने की कोशिश करेंगे.

Rajasthan Politics: नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया (Gulabchand Kataria) के गहलोत सरकार गिरने के बयान पर सीएम अशोक गहलो ...अधिक पढ़ें

जयपुर. सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया के सरकार गिरने के बयान पर पलटवार करते हुए उनको नसीहत दी है कि उनकी उम्र हो गई है. गहलोत ने कहा कि मोदी जी (Narendra Modi) का जो फॉर्मूला है उसके अनुसार तो कटारिया को इस्तीफा दे देना चाहिए और मार्गदर्शक मंडल में चला जाना चाहिये. गहलोत ने कहा कि बीजेपी (BJP) का सरकार गिराने का षड्यंत्र था. उसमें उसको मुंह की खानी पड़ी. राजस्थान बीजेपी में वर्तमान में इतनी फूट है जितनी आज तक कभी नहीं देखी गई.

गहलोत ने मंगलवार को सचिवालय में आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह के कार्यक्रम के बाद मीडिया से बातचीत करते हुये कहा कि लोकतंत्र में ये अच्छी परंपरा नहीं है. लोकतंत्र में असहमति का भी स्थान होता है. लोकतंत्र की खासियत यही है कि जो आपसे असहमत हैं उनकी भावनाओं की कद्र करें. लेकिन अभी मुल्क के अंदर जो असहमति व्यक्त करते हैं वो देशद्रोही के रूप में स्थापित किए जाते हैं. ये देश के लिये बहुत ही खतरनाक संकेत हैं. प्रदेशवासियों को इन बातों को गहराई से समझना चाहिए.

बजट में गुड गवर्नेंस को आधार बनाकर फैसले लेंगे
गहलोत ने कहा कि उन्होंने आगामी बजट की तैयारियां शुरू कर दी है. बकौल गहलोत गुड गवर्नेंस को आधार बनाकर हम लोग क्या फैसले कर सकते हैं वो करने की कोशिश करेंगे. वह चाहे पानी, बिजली, शिक्षा, स्वास्थ्य और सड़कें जो भी हो उन पर पूरा ध्यान दिया जा रहा है. युवाओं को सरकारी और गैर-सरकारी नौकरियां कैसे दी जा सकती है उस पर भी फोकस किया जा रहा है.

दिल्ली में राज्यों की बातें लेकिन कोई नहीं सुन रहा है
गहलोत ने कहा कि हमने पिछले दो महीने में जो प्रयास किए हैं उसमें हर क्षेत्र को छूने की कोशिश की है. सीएम ने कहा कि इन्वेस्टमेंट आने लगेगा तो प्राइवेट सेक्टर के अंदर भी नौकरियों की राह खुलने लगेगी. उन्होंने आरोप लगाया कि दिल्ली में राज्यों की बातें लेकिन कोई नहीं सुन रहा है. लिखित में समझौता होने के बावजूद राज्यों का जीएसटी मद का पैसा नहीं मिल रहा है.

Tags: Ashok Gahlot, BJP, Congress, Rajinikanth Politics

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें