Gehlot VS Pilot: Twitter पर समर्थकों ने खोला मोर्चा, लिखा- पायलट आ रहा है...

सचिन पायलट के समर्थकों ने अब उनके समर्थन में ट्वीटर पर जंग छेड़ दी है. (सांकेतिक फोटो)

सचिन पायलट समर्थकों ने ट्वीटर पर शुरू की जंग, #पायलट आ रहा है हुआ ट्रेंट, समर्थकों ने सचिन पायलट को बताया मुख्यमंत्री पद का सही दावेदार.

  • Share this:
जयपुर. राजस्‍थान कांग्रेस में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच चल रही खींचतान अब बढ़ती नजर आ रही है. पायलट समर्थकों ने मंगलवार को ट्वीटर पर मोर्चा खोल दिया. पायलट समर्थक विधायकों ने ट्वीटर पर फोटो पोस्ट करने के साथ ही लिखा कि पायलट आ रहा है. वहीं कुछ विधायकों ने भी सचिन पायलट के समर्थन में ट्वीट किए. एक ट्वीट के अनुसार सचिन पायलट वे नेता हैं जिन्होंने पांच साल तक राजस्‍थान में कड़ी मेहनत की और राजस्‍थान कांग्रेस को एक नई जिंदगी दी. और अब पूरा राज्य उनका इंतजार कर रहा है. इसके साथ ही ट्वीटर पर #पायलट आ रहा है ट्रेंड कर गया. वहीं एक ट्वीट में लिखा गया कि केवल किसानों के नेता सचिन पायलट ही राजस्‍थान का सही नेतृत्व कर सकते हैं.

कर लिया है टेकऑफ
ट्वीटर पर ट्रेंड कर रहे टॉपिक के साथ ही पायलट समर्थकों ने रोचक बातें भी लिखी हैं. एक समर्थक ने सचिन के फोटो के साथ ही लिखा- पायलट हेज बिन टेक ऑफ. वहीं एक समर्थक ने तो सचिन पायलट को कांग्रेस का अध्यक्ष बनाने की भी मांग कर दी. वहीं पायलट को युवाओं का आदर्श, किसानों का नेता, इमानदार, विख्यात नेता समर्थकों ने बताया है.

वहीं दूसरी तरफ बुधवार को गहलोत समर्थक निर्दलीय और बीएसपी से कांग्रेस में आए विधायक जयपुर में बैठक की योजना बना रहे हैं. इस बैठक में सभी विधायक कांग्रेस आलाकमान पर दबाव बनाने और उन्हें सरकार में भागीदारी देने की रणनीति तय करने जा रहे हैं. इस बैठक का मकसद गहलोत के नेतृत्व में अपनी आस्‍था बताना और पार्टी आलाकमान को ये संदेश देना है कि यदि पायलट का समर्थन किया तो सरकार पर संकट आ सकता है.

बनाया नया समूह
गौरतलब है कि राजस्‍थान में 13 निर्दलीय विधायक और बीसएसपी से कांग्रेस में छह विधायक आए हैं. इन्होंने अब कांग्रेस आलाकमान पर दबाब के लिए नया समूह जी 19 बनाया है. वहीं इस बैठक के जरिए पायलट और गहलोत गुट को भी ये साफ होगा कि 19 में से कितने विधायक किसका समर्थन खुलेआम या फिर दबी जबान से कर रहे हैं. इससे पहले बीएसपी से कांग्रेस में आए छह विधायक पहले ही अपनी अलग बैठक कर गहलोत के समर्थन में बोल चुके हैं. जानकारी के अनुसार बैठक का मकसद गहलोत को ताकतवर दिखाना और पायलट को कमजोर.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.