राजस्थान: गाड़ी के VVIP नंबर चाहने वालों के लिए सुनहरा मौका, जयपुर RTO ने लाया खास ऑफर

जयपुर आरटीओ ने कार के वीवीआईपी नंबर की चाह रहने वालों के लिए खास मौका लेकर आया है.
जयपुर आरटीओ ने कार के वीवीआईपी नंबर की चाह रहने वालों के लिए खास मौका लेकर आया है.

जयपुर आरटीओ (Jaipur RTO) ने फाइव सीटर कार से ऊपर के सभी गैर परिवहन वाहनों के लिए वीवीआईपी नंबर्स (VVIP Numbers) की नई सीरीज ओपेन की है. लोग एक से 7 लाख खर्च कर खास नंबर्स ले सकते हैं.

  • Share this:
जयपुर. अगर आप अपनी गाड़ियों के लिए वीवीआईपी नम्बर्स (VVIP Numbers) का क्रेज रखते हैं और आपकी पंसद का नम्बर अभी तक आपको नहीं मिला है, तो आपके लिए जयपुर आरटीओ (Jaipur RTO) खास मौका लेकर आया है. फाइव सीटर कार से ऊपर के सभी गैर परिवहन वाहनों के लिए जयपुर आरटीओ ने नई सीरीज ओपेन की है. लेकिन ये ध्यान रहे कि यह नई सीरीज रनिंग सीरीज से 6 सीरीज आगे है. ऐसे में इस सीरीज में नम्बर लेने के लिए आपको अपनी जेब ज्यादा ढीली करनी पड़ेगी.

विशेषकर खास 6 नम्बर्स के लिए लोगों को मिनिमम 7 लाख 7 हजार का डीडी लगाना होगा. वहीं मनपसंद नम्बर के लिए एक से ज्यादा आवेदन आ गए तो उसकी बोली लगेगी, जो बड़ी बोली लगने तक जारी रहेगी. आरटीओ जयपुर ने फाइव सीटर से ऊपर की कारों के लिए नई सीरिज ओपेन कर दी है.

किस नम्बर के कितने रुपए चुकाने होंगे



नई सीरीज RJ14 UP दुपहिया के अलावा सभी श्रेणी के वाहनों के लिए- 0001, 0003, 0005, 0007, 0009 और 0786 के लिए कम से कम 7 लाख 7 हजार का डीडी लगेगा.
वहीं 0002, 0004, 0006, 0008, 0010, 0011, 0018, 0021, 0045, 0051, 0081, 0099, 0100, 0555, 0777, 0999, 8181 और 9999 के देने होंगे कम से कम 3 लाख 57 हजार रुपए.

0090, 0909, 2100, 2414, 5100, 6363, 7272, 9000, 9090, 0027, 0900, 9009, 9090, 1100, 2121, 4141, 5454, 7000, 8055 के लिए लगेगा कम से कम 1 लाख 32 हजार का डीडी.

शेष 3 अथवा 4 समान अंकों वाले नम्बर्स के लिए लोगों को कम से कम 84 हजार रुपए चुकाने होंगे.

ऑनलाइन कर सकेंगे आवेदन

परिवहन विभाग की मंजूरी के बाद आरटीओ जयपुर ने नई सीरीज "RJ14 UP" जारी कर दी है. इसकी विज्ञप्ति प्रसारित होने के 7 दिन के कार्यदिवस के बाद जो भी गुरुवार आएगा, उससे आप इस सीरीज के नम्बर्स के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे. जहां आप इस सीरीज के अलावा पहले से चल रही शेष 6 सीरीज में से भी अपना पंसदीदा नम्बर बुक कर पाएंगे. लेकिन अगर एक ही नम्बर के लिए ज्यादा आवेदन आते है तो फिर इसकी ऑनलाइन बोली लगेगी. सबसे ज्यादा बोली लगाने वाले को वो नम्बर अलॉट हो जाएगा.

नई सीरीज से उम्मीद पहले से ही कोरोना की मार झेल रहे परिवहन विभाग को इस नई सीरीज से काफी उम्मीदें हैं. आरटीओ जयपुर राजेन्द्र वर्मा ने बताया कि इससे पहले आरटीओ ने छठवीं सीरीज मार्च 2019 में खोली थी. लोगों की मांग पर नई सीरीज खोली जा रही है. हमें उम्मीद है कि इस सीरीज को लेकर भी लोगों में क्रेज देखने को मिलेगा. वहीं विभाग के राजस्व में भी बढ़ोत्तरी होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज