Home /News /rajasthan /

खुशखबरी: आज से खुल जाएगा शेखावाटी के लिए रेलमार्ग, कल से नियमित चलेगी जयपुर-सीकर डेमू ट्रेन

खुशखबरी: आज से खुल जाएगा शेखावाटी के लिए रेलमार्ग, कल से नियमित चलेगी जयपुर-सीकर डेमू ट्रेन

विशाखापट्टनम एक्सप्रेस में लुटेरों ने वारदात को अंजाम दिया है.

विशाखापट्टनम एक्सप्रेस में लुटेरों ने वारदात को अंजाम दिया है.

शेखावाटी (Shekhawati) के लिए उत्तर पश्चिम रेलवे (North Western Railway) ने आखिरकार रेल मार्ग (Railway track) के दरवाजे खोल दिए हैं. पिछले करीब दो-ढाई साल से शेखावाटी के सीकर-चूरू और झुंझूनूं (Sikar-Churu and Jhunjhunu) में ब्रॉडगेज लाइन (Broad gauge line) के निर्माण कार्य के चलते ये रेल मार्ग जयपुर (Jaipur) से कटा हुआ था.

अधिक पढ़ें ...
जयपुर. शेखावाटी (Shekhawati) के लिए उत्तर पश्चिम रेलवे (North Western Railway) ने आखिरकार रेल मार्ग (Railway track) के दरवाजे खोल दिए हैं. पिछले करीब दो-ढाई साल से शेखावाटी के सीकर-चूरू और झुंझूनूं (Sikar-Churu and Jhunjhunu) में ब्रॉडगेज लाइन (Broad gauge line) के निर्माण कार्य के चलते ये रेल मार्ग जयपुर (Jaipur) से कटा हुआ था. लेकिन अब सोमवार (Monday) से सीकर के लिए डेमू रेल (Daimu rail) की शुरूआत होने जा रही है.

सोमवार शाम को 5.30 बजे रींगस से होगी रवाना
पहले दिन सोमवार को ये ट्रेन सीकर जिले के रींगस से शाम 5.30 पर रवाना होकर रात 7.30 बजे जयपुर पहुंचेगी. उसके बाद मंगलवार से जयपुर-रींगस-सीकर के लिए नियमित तौर पर संचालित होगी. राजधानी जयपुर से शेखावाटी जाने वाले यात्री ट्रेन के अभाव में पूरी तरह से सरकारी और निजी बसों पर ही निर्भर थे, लेकिन अब उन्हें ट्रेन का भी विकल्प मिल जाएगा. रेल मार्ग शुरू होने से यात्रियों को काफी राहत मिलेगी.

रविवार को किया गया था ट्रायल
पहले दिन रेल संख्या 09652 रींगस से शुरू होकर वाया छोटा गुढ़ा, गोविंदगढ़ मलिकपुर, लोहरवाड़ा, चौमूं-सामोद, भट्टों की गली, नींदड़ बेनाड़ और ढेहर का बालाजी होते हुए जयपुर पहुंचेगी. इस ट्रेन को सोमवार को रींगस से हरी झंडी दिखाई जाएगी. रविवार को इस डेमू रेल का ट्रायल किया गया जो कि सफल रहा.

बड़ी संख्या में प्रतिदिन लोग नियमित रूप से जयपुर आवागमन करते हैं
उल्लेखनीय है कि जयपुर से सटे हुए सीकर जिले के विभिन्न गांवों और कस्बों से बड़ी संख्या में लोग जयपुर आवागमन करते हैं. इनमें नौकरीपेशा से लेकर दिहाड़ी मजदूरी करने वाले लोग भी शामिल हैं. इन्हें प्रतिदिन सुबह रोजी रोटी के जयपुर आना होता है और शाम को वापस अपने घर जाना होता है.

नियमित यात्रियों को मिलेगी बड़ी राहत
वहीं जयपुर से भी बड़ी संख्या में नौकरीपेशा लोग नियमित रूप से चौमूं, रींगस, पलसाना, रानोली, श्रीमाधोपुर और पलसाना जाते हैं. उनके लिए पहले ट्रेन ही सबसे बड़ा साधन थी, लेकिन ब्रॉडगेज के कार्य के कारण यह बंद हो गई थी. अब ट्रेन फिर से शुरू होने के कारण उन्हें काफी राहत मिलेगी.

कर्मचारियों-पेंशनर्स को आज मिलेगा दिवाली गिफ्ट! सरकार कर सकती है DA की घोषणा

EWS आरक्षण से भूमि और भवन संबंधी प्रावधान हुआ खत्म, अधिसूचना जारी

Tags: Indian railway, Jaipur news, Rajasthan news, Sikar news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर