Home /News /rajasthan /

राजस्थान में दिवाली पर 2 घंटे चला सकेंगे ग्रीन पटाखे, बेचने पर भी बैन, नहीं माना तो भारी जुर्माना

राजस्थान में दिवाली पर 2 घंटे चला सकेंगे ग्रीन पटाखे, बेचने पर भी बैन, नहीं माना तो भारी जुर्माना

राज्य सरकार की ओर से प्रदेश के एनसीआर क्षेत्र को छोड़कर दिवाली पर रात को 8 से 10 बजे तक दो घंटे ग्रीन पटाखों को चलाने की अनुमति प्रदान की गई है.

राज्य सरकार की ओर से प्रदेश के एनसीआर क्षेत्र को छोड़कर दिवाली पर रात को 8 से 10 बजे तक दो घंटे ग्रीन पटाखों को चलाने की अनुमति प्रदान की गई है.

Diwali Guidelines: दिवाली पर राजस्थान में नियम विरुद्ध पटाखे बेचने और चलाने पर राज्य सरकार सख्त कदम उठाएगी. राज्य सरकार ने दिवाली पर केवल 2 घंटे के लिए ग्रीन पटाखे चलाने की छूट दी है. इनके अलावा अन्य किसी तरह के पटाखे बेचने और चलाने पर भारी जुर्माना लगाया जाएगा.

अधिक पढ़ें ...

जयपुर. राजस्थान में इस बार दिवाली पर ग्रीन पटाखे चलाने की छूट मिल गई है, लेकिन नियम विरुद्ध पटाखे बेचने और चलाने पर भारी जुर्माना भरना पड़ सकता है. राजस्थान सरकार ने इस बारे में शनिवार को अधिसूचना जारी कर दी है. इसके तहत नियम विरुद्ध पटाखे बेचने पर 10000 रुपए और चलाने पर 2000 रुपए का जुर्माना लगेगा. दिवाली पर सरकार ने पटाखे छोड़ने के लिए दो घंटे का समय तय किया है. इसके तहत रात 8 बजे से 10 बजे तक ही पटाखे छोड़े जा सकेंगे. नियमों का उल्लंघन ना हो इसके लिये सरकार निगरानी की व्यवस्था करेगी.

राजस्थान सरकार ने दीपावली पर दो घंटे ग्रीन पटाखे चलाने की अनुमति दी है. इसके तहत राज्य सरकार की ओर से प्रदेश के एनसीआर क्षेत्र को छोड़कर दिवाली पर रात 8 से 10 बजे तक दो घंटे ग्रीन पटाखों को चलाने की अनुमति दी गई है. इसके साथ ही क्रिसमस एवं नववर्ष पर रात 11.55 से 12.30 बजे तक, गुरू पर्व पर रात 8 से 10 बजे तक और छठ पर्व पर सुबह 6 से 8 बजे तक सिर्फ ग्रीन पटाखे चलाने की अनुमति दी गई है. गृह विभाग ने इस संबंध में पहले भी आदेश जारी किए थे. उसके बाद शनिवार को संशोधित आदेश जारी किए गए हैं.

प्रदूषित शहरों को बिलकुल छूट नहीं

जिस शहर में एयर क्वालिटी पूअर या उससे खराब है, वहां आतिशबाज़ी पर रोक रहेगी. सुप्रीम कोर्ट एवं एनजीटी के दिशा-निर्देशों को ध्यान में रखते हुए गृह विभाग ने अधिकतम छूट देते हुए ग्रीन पटाखों को चलाने की अनुमति दी है. ग्रीन पटाखों का प्रमाणन केंद्र सरकार की एजेंसी सीएसआईआर-नीरी की ओर से दिया जाता है. राज्य में 12 पटाखा उत्पादकों को यह प्रमाण-पत्र दिया जा चुका है. इन उत्पादकों को पीईएसओ से पटाखा बनाने के लिए लाइसेंस भी लेना होता है. राज्य के 9 उत्पादकों के पास पीईएसओ से लाइसेंस है.

Tags: Diwali Celebration, Green Crackers, Rajasthan latest news, Rajasthan News Update

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर