राज्यपाल कल्याण सिंह की पहल, नहीं लेंगे 'गार्ड ऑफ ऑनर'

राज्यपाल कल्याण सिंह ने इस सिलसिले में अपनी इच्छा जाहिर करते हुए राज्य सरकार को पत्र लिखा था, जिस पर सरकार ने अपनी सहमति जता दी है.

News18 Rajasthan
Updated: June 14, 2018, 7:46 PM IST
राज्यपाल कल्याण सिंह की पहल, नहीं लेंगे 'गार्ड ऑफ ऑनर'
राज्यपाल कल्याण सिंह। फोटो: न्यूज18 राजस्थान
News18 Rajasthan
Updated: June 14, 2018, 7:46 PM IST
प्रदेश के राज्यपाल कल्याण सिंह ने नई पहल की है। राज्यपाल कल्याण सिंह की पहल पर राज्यपाल के सम्मान में दिए जाने वाले गार्ड ऑफ ऑनर की परिपाटी को खत्म कर दिया गया है. राज्यपाल कल्याण सिंह ने इस सिलसिले में अपनी इच्छा जाहिर करते हुए राज्य सरकार को पत्र लिखा था, जिस पर सरकार ने अपनी सहमति जता दी है. अब राज्यपाल को दौरे के दौरान उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर नहीं दिया जाएगा.

राज्यपाल ने गार्ड ऑफ ऑनर नहीं लेने की अपनी इच्छा व्यक्त करते हुए राज्य सरकार को इसी साल एक जनवरी को पत्र भेजा था. राज्यपाल ने पत्र में पूछा था कि क्या राजभवन में आने और जाने के समय और दौरों के दौरान सम्मान स्वरूप दिये जाने वाले गार्ड ऑफ ऑनर की परम्परा और प्रोटोकाल को समाप्त किया जा सकता है. उनके लिए गार्ड ऑफ ऑनर के प्रावधान नहीं किये जाएं. राज्यपाल ने इस संबंध में गृह विभाग से आवश्यक नियमों और प्रक्रियाओं के संबंध में पूरी जानकारी मांगी थी. इसके जवाब में राज्य सरकार के गृह विभाग ने कहा था कि राज्यपाल की इच्छा के अनुरूप उन्हें प्रदान किये जाने वाले गार्ड ऑफ ऑनर की प्रथा को समाप्त किया जा सकता है.

इस पर राज्यपाल कल्याण सिंह ने राज्य सरकार की इस टिप्पणी के आधार पर गार्ड ऑफ ऑनर की प्रथा को समाप्त करने के लिए अपनी सहमति दे दी. राज्यपाल ने राज्य सरकार को भी इसकी सूचना भिजवा दी है.

(रिपोर्ट: सुधीर शर्मा एवं गौवर्धन चौधरी)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर