गुर्जर आरक्षण आंदोलन: चार दिन में करोड़ों का फटका लग चुका है रेलवे और रोडवेज को

गुर्जर आंदाेलन से रेलवे और रोडवेज समेत अन्य ट्रांसपोर्टर को जबर्दस्त घाटा उठाना पड़ रहा है. हालात अगर जल्द नहीं सुधरे तो अब तक करोड़ों रुपयों का फटका खा चुके रेलवे और राजस्थान रोडवेज का राजस्व नुकसान लगातार बढ़ता जाएगा.

News18 Rajasthan
Updated: February 12, 2019, 2:07 PM IST
News18 Rajasthan
Updated: February 12, 2019, 2:07 PM IST
पांच फीसदी आरक्षण की मांग को लेकर प्रदेश में गुर्जर समाज का आंदोलन लगातार जारी है. आंदोलन के कारण दिल्ली-मुंबई रेल ट्रैक पूरी तरह से बाधित है. वहीं कई राजमार्गों पर भी आंदोलनकारियों द्वारा लगाए गए जाम से यातायात ठप हो गया है. इससे जहां आमजन को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. वहीं रेलवे और रोडवेज समेत अन्य ट्रांसपोर्टर को जबर्दस्त घाटा उठाना पड़ रहा है. हालात अगर जल्द नहीं सुधरे तो अब तक करोड़ों रुपयों का फटका खा चुके रेलवे और राजस्थान रोडवेज का राजस्व नुकसान लगातार बढ़ता जाएगा. अब तक एक पुलिस बस समेत तीन वाहनों को आग में झौंका जा चुका है.

गुर्जर आरक्षण आंदोलन: अपडेट खबरें यहां News18 राजस्थान पर देखें- LIVE 

उग्र हुआ गुर्जर आरक्षण आंदोलन, धौलपुर में पथराव और फायरिंग, तीन वाहनों को लगाई आग



रेलवे ट्रैक पर कब्जे के चलते पश्चिमी मध्य रेलवे (WCR) और उत्तर पश्चिमी रेलवे (NWR) दर्जनों ट्रेनों को रद्द कर चुका है. वहीं उससे ज्यादा ट्रेनों का मार्ग परिवर्तित किया जा चुका है. यह सिलसिला गत शुक्रवार यानी पांच दिनों से जारी है. इससे एडवांस बुकिंग करवा चुके यात्रियों ने बड़ी संख्या में अपने टिकट कैंसिल करवाए हैं. इससे रेलवे को करोड़ों का नुकसान हो चुका है.

गुर्जर आरक्षण आंदोलन: 'टॉक ऑन ट्रैक' पर अड़े आंदोलनकारी, पटरियों पर चढ़ाई जीप

गुर्जर आरक्षण आंदोलन: रेलवे ट्रैक पर महापड़ाव जारी, भरतपुर में भी धारा-144

NWR को चार दिन में 32 लाख की चपत
Loading...

NWR ने गत चार दिनों में 41 ट्रेनों को डाइवर्ट और सात ट्रेनों को अब तक रद्द किया है. उदयपुर-निजामुद्दीन की 60 ट्रिप को अब तक रद्द किया जा चुका है. ट्रेनों की ताजा स्थिति और जानकारी के लिए NWR 13 से ज्यादा बुलेटिन जारी कर चुका है. यहां के रेलवे सूत्रों के अनुसार चार दिनों में अब तक लगभग 32 लाख का नुकसान हो चुका है.

गुर्जर फिर से आंदोलन पर, जानें क्या है राजस्थान में इनके वोटों का गणित

WCR को आठ से दस करोड़ का फटका
पश्चिमी मध्य रेलवे (WCR) के तहत आने वाला कोटा रेल मंडल भी दर्जनों गाड़ियां रद्द और डाइवर्ट कर चुका है. कोटा मंडल अभी तक 110 गाड़ियों को रद्द, 26 को आंशिक रद्द और 81 को डाइवर्ट कर चुका है. मंडल का प्रतिदिन का औसतन 1.5 से 2 करोड़ का राजस्व आता है. अब मंडल को करीब आठ से दस करोड़ का फटका लग चुका है.

गुर्जर आरक्षण आंदोलन: सरकार ने वार्ता के लिए किया तीन मंत्रियों की समिति का गठन

सवाई माधोपुर स्टेशन को करीब एक करोड़ का नुकसान
अकेले सवाई माधोपुर रेलवे स्टेशन की बात करे तो उसे गत चार दिन में करीब एक करोड़ रुपए के राजस्व की हानि उठानी पड़ी है. सवाई माधोपुर स्टेशन अधीक्षक शिवलाल मीणा के अनुसार सवाई माधोपुर स्टेशन पर प्रतिदिन औसतन 25 लाख रुपए का राजस्व आता है. चार दिन में करीब एक करोड़ का नुकसान हो चुका है. गुर्जर आंदोलनकारी इसी जिले के मलारना डूंगर में दिल्ली-मुंबई रेलवे ट्रैक पर महापड़ाव डाले हुए हैं.

कानून में संशोधन करके ही दे सकती है गहलोत सरकार सवर्णों को 10% आरक्षण

लाखों का घाटा खा चुकी है रोडवेज
दौसा जिले में सिकंदरा में सोमवार को जाम लगाने के कारण जयपुर से भरतपुर, अलवर, आगरा वाया सिकंदरा मार्ग बंद हो चुका है. जाम के कारण रोडवेज सेवा भी प्रभावित हुई है. इसके चलते दौसा-बयाना, दौसा-हिंडौन, दौसा-करौली, दौसा-भरतपुर, दौसा-अलवर और दौसा- धौलपुर मार्ग पर चलने वाली रोडवेज बसें बंद हो गई हैं. जाम के बाद इन मार्गों पर चलने वाली बसों को दौसा बस डिपो में खड़ा करवा दिया गया है. करौली-हिंडौन मार्ग भी पिछले तीन दिन से बंद है. इसके अलावा अन्य राजमार्गों पर भी जाम से रोडवेज बस सेवाएं प्रभावित हो रही है. इससे राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम को प्रतिदिन लाखाें रुपए का घाटा उठाना पड़ा रहा है.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर