ओलावृष्टि: जिला प्रभारी मंत्री कल से करेंगे 15 जिलों का दौरा, नुकसान का लेंगे जायजा

प्रभारी मंत्री नुकसान का जायजा लेने के बाद अपनी रिपोर्ट मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को सौंपेंगे.
प्रभारी मंत्री नुकसान का जायजा लेने के बाद अपनी रिपोर्ट मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को सौंपेंगे.

प्रदेश में गत 3 दिनों में विभिन्न जिलों में बारिश और ओलावृष्टि (Rain and hailstorm) से हुए नुकसान का आकलन करने के लिए गहलोत सरकार (Gehlot Government) ने 15 जिलों के लिए प्रभारी मंत्री नियुक्त (Appointed minister in charge) किए हैं.

  • Share this:
जयपुर. प्रदेश में गत 3 दिनों में विभिन्न जिलों में बारिश और ओलावृष्टि (Rain and hailstorm) से हुए नुकसान का आकलन करने के लिए गहलोत सरकार (Gehlot Government) ने 15 जिलों के लिए प्रभारी मंत्री नियुक्त (Appointed minister in charge) किए हैं. प्रभारी मंत्री 8 मार्च से अपने प्रभाव वाले जिलों का दौरा कर 4, 5 और 6 मार्च को हुई ओलावृष्टि से हुए नुकसान (loss) का जायजा लेंगे. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देश पर प्रभारी मंत्री इस दौरान किसानों से मुलाकात करेंगे और संबंधित जिला कलक्टर व अन्य अधिकारियों के साथ बैठक कर फसल खराबे की स्थिति का आकलन करेंगे.

यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल को जयपुर की कमान
राज्य सरकार ने महिला एवं बाल विकास मंत्री ममता भूपेश को अलवर, ऊर्जा मंत्री डॉ. बीडी कल्ला को बाड़मेर, खेल मंत्री अशोक चांदना को भरतपुर, विधायक हरीश चौधरी को दौसा, शिक्षा राज्य मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा को हनुमानगढ़ और श्रीगंगानगर की जिम्मेदारी दी है. वहीं यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल को जयपुर, कृषि मंत्री लालचंद कटारिया को जोधपुर, पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह को करौली, श्रम मंत्री टीकाराम जूली को सवाई माधोपुर, परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास को बूंदी, अल्पसंख्यक मामलात मंत्री शालेह मोहम्मद को बीकानेर, तकनीकी शिक्षा राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग को चूरू, उद्योग मंत्री परसादी लाल मीणा को झुंझुनू और वन एवं पर्यावरण मंत्री सुखराम बिश्नोई को नागौर का प्रभारी मंत्री बनाया है.

ओलावृष्टि ने तोड़ दी किसानों की कमर
उल्लेखनीय है कि राज्य में 4,5 और 6 मार्च को बेमौसम हुई बारिश व ओलावृष्टि ने किसानों की उम्मीदों को तोड़कर रख दिया है. 3 दिनों से लगातार ओलावृष्टि होने से किसानों की खेत में खड़ी पकी और कटी फसल तहस-नहस हो गई है. सरसों-गेहूं की फसल कटाई के अंतिम मोड़ पर खड़ी थी, लेकिन किसान फसल काटते उससे पहले ही ओलावृष्टि ने सब चौपट कर दिया.



प्रभारी मंत्री रिपोर्ट मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को सौंपेंगे
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उच्च अधिकारियों के साथ बैठक कर स्थिति का जायजा लिया है. मुख्यमंत्री ने प्रभावित जिलों के कलक्टर को गिरदावरी करने के सख्त निर्देश दिए हैं, ताकि किसानों को मुआवजा देकर नुकसान की भरपाई की जा सके. प्रभारी मंत्री स्थिति का जायजा लेने के बाद अपनी रिपोर्ट मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को सौंपेंगे.

 

Good News: जयपुर जंक्शन पर कराइए हेल्थ चेकअप, खर्च होंगे सिर्फ 50 से 100 रुपए

 

Corona Virus: विदेशी पर्यटकों को होटल 'एंट्री' में परेशानी, दिए​ सख्त निर्देश
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज