हाथरस कांड: आक्रोश की आग पहुंची राजस्थान, वाल्मीकि समाज ने शुरू किया आंदोलन, 5 हजार सफाईकर्मी उतरे हड़ताल पर

संयुक्त वाल्मिकी एवं सफाई श्रमिक संघ ने चेतावनी दी है कि अगर दोषियों पर जल्द कार्रवाई नहीं हुई तो तो उग्र आंदोलन किया जाएगा. (सांकेतिक फोटो)

संयुक्त वाल्मिकी एवं सफाई श्रमिक संघ ने चेतावनी दी है कि अगर दोषियों पर जल्द कार्रवाई नहीं हुई तो तो उग्र आंदोलन किया जाएगा. (सांकेतिक फोटो)

Hathras case: उत्तर प्रदेश के हाथरस कांड के आक्रोश की आग राजस्थान पहुंच चुकी है. इसको लेकर 5 हजार से ज्यादा सफाइकर्मी हड़ताल (Strike) पर उतर आये हैं और वे आज प्रदर्शन करेंगे.

  • Share this:
जयपुर. उत्तर प्रदेश के हाथरस में युवती से कथित गैंगरेप और हत्या (Hathras case) के बाद में उसके शव को पुलिस द्वारा जबरन जलाये जाने के विरोध की आग अब राजस्थान में भी पहंच गई है. इस मामले को लेकर अब राजस्थान का वाल्मीकि समाज भी आंदोलन (Movement) पर उतर आया है. राजधानी जयपुर के पांच हजार से ज्यादा सफाईकर्मी गुरुवार को हाथरस की घटना विरोध में हड़ताल (Strike) पर रहेंगे. इस दौरान सफाईकर्मी नगर निगम मुख्यालय के बाहर एकत्रित होकर विरोध प्रदर्शन करेंगे.

जल्द कार्रवाई नहीं हुई तो तो उग्र आंदोलन किया जाएगा

संयुक्त वाल्मिकी एवं सफाई श्रमिक संघ के आव्हान पर इस हड़ताल का ऐलान किया गया है. संघ के अध्यक्ष नंदकिशोर डंडोरिया ने बताया कि समाज की बेटी के साथ अत्याचार हुआ है. इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. मामले में आरोपियों और अधिकारियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिये. नंदकिशोर ने बताया कि राजस्थान का वाल्मीकि समाज आज मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और राज्यपाल कलराज मिश्र को ज्ञापन भेजकर इस मामले में जल्द से जल्द कार्रवाई की मांग करेगा. डंडोरिया ने चेतावनी दी है कि अगर दोषियों पर जल्द कार्रवाई नहीं हुई तो तो उग्र आंदोलन किया जाएगा.

बड़ा सड़क हादसा: कार ट्रेलर में घुसी, पूगल थाना प्रभारी और कांस्टेबल समेत 3 की मौत
Youtube Video


घटना को लेकर देशभर में उबाल आया हुआ है

उल्लेखनीय है कि हाथरस में लड़की के साथ कथित गैंगरेप और उसकी हत्या के केस से देशभर में उबाल आया हुआ है. सोशल मीडिया से लेकर सड़क तक लोग इस घटना को लेकर रिएक्ट कर रहे हैं. विपक्षी दलों ने इस केस को लेकर यूपी की योगी सरकार को निशाने पर ले रखा है. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी यूपी की योगी सरकार पर निशाना साधा है. राष्ट्रीय महिला आयोग ने भी नोटिस जारी कर सरकार से इस मामले में जवाब मांगा है. वहीं सीएम योगी ने वीसी के जरिए पीड़ित परिवार से बात कर उन्हें भरोसा दिलाया कि आरोपियों को कठोर सजा दिलाई जाएगी. योगी सरकार ने पीड़ित परिवार को 25 लाख रुपए की आर्थिक सहायता के साथ ही एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने का भी ऐलान किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज