राजस्थान में बारिश का कहर, 24 से ज्यादा स्थानों पर 120 से 300MM तक बारिश, दो की मौत

राजस्थान में बारिश ने कहर बरपा (heavy rain) दिया है. प्रदेश के कई जिले लगातार हो रही मूसलाधार बारिश के कारण बाढ़ के हालात (Flood Situation) हो गए हैं. पिछले 24 घंटों में राज्य के कई हिस्सों में रिकॉर्ड तोड़ बारिश दर्ज की गई है. बारां में बारिश से दो लोगों की मौत (Death of two) हो गई है.

News18 Rajasthan
Updated: August 16, 2019, 1:33 PM IST
राजस्थान में बारिश का कहर, 24 से ज्यादा स्थानों पर 120 से 300MM तक बारिश, दो की मौत
बारां में बचाव कार्य में जुटी एनडीआरएफ की टीम। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।
News18 Rajasthan
Updated: August 16, 2019, 1:33 PM IST
राजस्थान में बारिश ने कहर बरपा (heavy rain) दिया है. प्रदेश के कई जिले लगातार हो रही मूसलाधार बारिश के कारण बाढ़ के हालात (Flood Situation) हो गए हैं. पिछले 24 घंटों में राज्य के कई हिस्सों में रिकॉर्ड तोड़ बारिश दर्ज की गई है. बारां में बारिश से दो लोगों की मौत (Death of two) हो गई है. 13 जिलों में झमाझम बारिश का दौर चला है. इनमें बारां, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, झालावाड़ और पाली जिलों में अति भारी बरसात दर्ज की गई है. अजमेर, प्रतापगढ़, पाली और राजसमंद में भी जबर्दस्त बारिश हुई है. इन इलाकों में सभी जगह बारिश का आंकड़ा 120 एमएम से लेकर 300 एमएम तक रहा है. अभी भी बारिश का दौर चल रहा है. वहीं राहत एवं बचाव कार्य (rescue operation) भी जारी है

यहां देखें कहां कितनी हुई बारिश
जल संसाधन विभाग के बुलेटिन के अनुसार बारां जिले के कई इलाकों में बाढ़ के हालात हैं. बारां के छबड़ा में 256 एमएम, अटरू में 241, बेथली में 205, छीपाबड़ौद में 200 और बांरा में 127 एमएम बारिश हुई है. वहीं जोधपुर के शेरगढ़ में 197, भीलवाड़ा के मांडलगढ में 237, काछोला में 236, बिजौलिया में 188, चित्तौड़गढ़ के बेंगू में 302, निम्बाहेडा-119 और चित्तौडगढ़ में 124 एमएम बारिश दर्ज की गई है. झालावाड़ के डग में 210 एमएम, सुनेल में 122, कोटा के सांगोद में 169, पाली में 276 ,कोटड़ा में 136, माउंट आबू में 118, प्रतापगढ़ में 120, सोजत में 174 और राणी में 173 एमएम बारिश हुई है. इसके अलावा टाटगढ में 130 और विजयनगर 125 एमएम बारिश दर्ज हुई है.

जोधपुर और उदयपुर में भी रिकॉर्ड बारिश

जोधपुर शहर में भी गुरुवार देर रात से बरसात जारी है. लेकसिटी उदयपुर में 48 घंटे से लगातार झमाझम बारिश हो रही है. विश्व प्रसिद्ध पिछोला झील को भरने वाली सीसारमा नदी अपने पूरे वेग पर है. अलसुबह से नदी करीब 8 फ़ीट बहाव से चल रही है और लगातार पानी पिछोला झील में पहुंच रहा है. विभिन्न स्थानों पर हो रही बारिश से कई जगह मकान ढह और क्षतिग्रस्त हो गए.

गुढा बांध के 17 गेट खोलने से बाढ़ के हालात
जोधपुर-अहमदाबाद डेमो ट्रेन को रद्द कर दिया गया है. ट्रेप सुबह जोधपुर से हुई थी रवाना, लेकिन रेलवे ट्रेक पर पानी भरा होने के कारण उसे लूणी स्टेशन पर उसे रद्द कर दिया गया. जालोर में मूसलाधार बारिश का दौर जारी है. इसके कारण लोगों का घरों से निकलना मुश्किल हो गया है. भीलवाड़ा शहर में निचली बस्ती कासोरिया में पानी भरने से 20 भील परिवारों को स्कूल में शिफ़्ट कर किया गया है. हिण्डोली क्षेत्र में गुढा बांध के 17 गेट खोलने से बाढ़ के हालात पैदा हो गए हैं.
Loading...

Alert: कोटा बैराज के 16 गेट खोले, जाखम बांध छलका

चेतावनी- आज इन 22 जिलों में हो सकती है भारी बारिश
First published: August 16, 2019, 1:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...