Home /News /rajasthan /

heavy rain created havoc in rajasthan 4 to 7 inches of water fell at 11 places read imd latest forecast rjsr

राजस्थान में छप्पर फाड़ बारिश: 11 स्थानों पर गिरा 4 से 7 इंच तक पानी, जानें आगे क्या होगा?

मौसम विभाग के अनुसार आगामी 21 अगस्त से राजस्थान में बारिश का नया दौर शुरू होने की प्रबल संभावना है.

मौसम विभाग के अनुसार आगामी 21 अगस्त से राजस्थान में बारिश का नया दौर शुरू होने की प्रबल संभावना है.

Heavy rain in Rajasthan: राजस्थान में इस बार हो रही रिकॉर्ड तोड़ बारिश ने मौसम विभाग (IMD) को चौंका दिया है. हालात ये हैं कि राजस्थान के कई हिस्सों में बुधवार को सुबह साढ़े आठ बजे तक बीते 24 घंटों में चार से सात इंच तक पानी गिरा है. इस अवधि में राजस्थान के करीब एक दर्जन इलाकों में 100 से 173 एमएम तक बारिश हुई है. पढ़ें मौसम विभाग का ताजा पूर्वानुमान (Latest Forecast) कि अब आगे क्या होने वाला है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

राजस्थान में सबसे ज्यादा 173 एमएम बारिश प्रतापगढ़ के अरनोद में दर्ज की गई है
माउंट आबू में 169, केर में 165, डग में 157 और जयसमंद में 148 एमएम बारिश हुई

जयपुर. राजस्थान में इस बार मानसून की छप्पर फाड़ बारिश (Heavy to heavy rain) हो रही है. हालात यह है कि प्रदेश के विभिन्न स्थानों पर बारिश रोजाना नये रिकॉर्ड कायम कर रही है. बुधवार को सुबह साढ़े आठ बजे तक बीते 24 घंटों में राजस्थान के करीब एक दर्जन स्थानों पर चार से सात इंच से ज्यादा बारिश दर्ज की गई है. बारिश का मौजूदा दौर अभी तक पूरी तरह से थमा भी नहीं है कि मौसम विभाग (IMD) ने अगले दौर की बारिश के आसार भी जता दिये हैं. मौसम विभाग के अनुसार फिलहाल प्रदेश में सक्रिय सिस्टम के अगले 24 घंटों में कमजोर पड़ने की संभावना है. लेकिन उसके बाद आगामी 21 अगस्त से बारिश नया स्पेल शुरू होने वाला है.

मौसम विभाग के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि राजस्थान में मौजूदा समय में चल रहा बारिश का दौर आगामी 24 घंटों में कमजोर पड़ सकता है. वर्तमान में पूर्वी राजस्थान के ऊपर बना गहरा कम दबाव का तंत्र (WELL MARKED LOW PRESSURE) पश्चिमी राजस्थान के ऊपर पहुंच गया है. अगले 12 घंटों में इसके और धीरे-धीरे कमजोर होकर पश्चिम दिशा की ओर आगे बढ़ने की प्रबल संभावना है. इसके चलते पूर्वी राजस्थान के अधिकतर भागों में आज से ही बारिश की गतिविधियों में कमी होनी शुरू हो जाएगी.

गुरुवार से तेजी से कमी आएगी बारिश की गतिविधियों में
मौसम विभाग के निदेशक ने बताया कि पश्चिमी राजस्थान के जोधपुर, बाड़मेर, जैसलमेर, जालोर, बीकानेर, नागौर और आसपास के जिलों में अगले 24 घंटे मानसून सक्रिय रहने की प्रबल संभावना है. जोधपुर संभाग के जिलों में कहीं-कहीं भारी तो एक-दो स्थानों पर अति भारी बारिश भी होने की संभावना है. उन्होंने बताया कि गुरुवार से पश्चिमी राजस्थान के जैसलमेर और बाड़मेर को छोड़कर ज्यादातर भागों में बारिश की गतिविधियों में तेजी से कमी होगी. अधिकतर भागों में मौसम शुष्क रहने और केवल कुछ स्थानों पर बारिश होने की संभावना है.

21 अगस्त से फिर शुरू होगा नया स्पेल
शर्मा के मुताबिक अब एक और नया कम दबाव का क्षेत्र बंगाल की खाड़ी में 19 अगस्त को बनने की संभावना है. इसके असर से पूर्वी राजस्थान के कुछ भागों में 21 अगस्त से बारिश का नया दौर शुरू होगा.

राजस्थान के कई हिस्सों में भारी बारिश दर्ज
राजस्थान में बुधवार को सुबह साढ़े बजे तक बीते 24 घंटों में सबसे ज्यादा 173 एमएम बारिश प्रतापगढ़ जिले के अरनोद में दर्ज की गई है. वहीं माउंट आबू में 169, केर में 165, डग में 157, जयसमंद में 148, कोटड़ा में 132, आबू रोड में 130, बालेसर में 125, साबला में 119, शिवगंज में 113, प्रतापगढ़ में 110, पिंडवाड़ा में 108 और सुमेरपुर में 101 एमएम बारिश हुई है. इसके अलावा बांसवाड़ा में 74, शक्करगढ़ में 70, गंभीरी डेम में 9, आसपुर में 97, चिखली में 99, निठाउवा में 95, फागी में 81, रानीवाड़ा में 77, जसवंतपुरा में 75, बकानी में 84, पिड़ावा में 73, धरियावाद में 78, सलूम्बर में 81 और सराड़ा में 71 एमएम बारिश दर्ज की गई है.

Tags: Heavy rain alert, Heavy Rainfall, Jaipur news, Rajasthan news, Weather Alert

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर