राजस्‍थान के 48 शहरों में 1724 केंद्रों पर हाईकोर्ट एलडीसी परीक्षा

ETV Rajasthan
Updated: July 23, 2017, 1:39 PM IST
राजस्‍थान के 48 शहरों में 1724 केंद्रों पर हाईकोर्ट एलडीसी परीक्षा
अभ्‍यर्थियों को कड़ी जांच-पड़ताल के बाद ही परीक्षा केंद्रों में प्रवेश दिया गया. फोटो : न्‍यूज़18/ईटीवी

राजस्थान उच्च न्यायालय के निर्देशन में जिला न्यायालयों में लिपिक पदों पर भर्ती के लिए निम्‍न श्रेणी लिपिक (एलडीसी) भर्ती परीक्षा का आयोजन रविवार को किया गया.

  • Share this:
राजस्थान उच्च न्यायालय के निर्देशन में जिला न्यायालयों में लिपिक पदों पर भर्ती के लिए निम्‍न श्रेणी लिपिक (एलडीसी) भर्ती परीक्षा का आयोजन रविवार को किया गया.

परीक्षा के लिए प्रदेश के 48 शहरों में 1724 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं, जहां सुबह 11 बजे से परीक्षा शुरू हुई, जो दो बजे समाप्‍त होगी. 1726 पदों के लिए आयोजित इस परीक्षा के लिए प्रदेशभर के 6 लाख परीक्षार्थियों ने आवेदन किया था. परीक्षा का पूरा प्रश्नपत्र ऑब्जेक्टिव होगा. परीक्षा में नकल को रोकने के लिए नकल विरोधी दस्तों का भी गठन किया गया. प्रदेश की राजधानी जयपुर में परीक्षा के लिए 244 सेंटर बनाए गए थे. यहां 1 लाख 5 हजार अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था.

कोटा जिले में 42 हजार से अधिक अभ्यर्थियों के लिए 136 परीक्षा केन्द्रों का गठन किया गया. कुछ परीक्षा केन्द्रों पर अभ्यर्थियों को प्रवेश पत्र की फोटोप्रति जमा कराने की अनिवार्यता का फरमान ऐन समय पर सुनाने से परीक्षार्थी और अभिभावक परेशान भी हो गए. आनन-फानन में जेरोक्स मशीनों की तरफ भागना पड़ा. ऐसे में केन्द्र प्रबंधकों ने 11 बजे परीक्षा शुरू होने के आधे घंटे बाद तक भी अभ्यर्थियों को परीक्षा केन्द्रों के भीतर प्रवेश देने में आनाकानी नहीं की.

बीकानेर शहर में 79 केंद्रों पर आयोजित परीक्षा में बड़ी सख्या में परिक्षार्थियों ने भाग लिया. परीक्षा को लेकर प्रशासन ने भी व्यवस्थाओं को अलर्ट पर रखा है. सभी केंद्रों पर सुरक्षा के लिए पुलिस व्यवस्था की गई, वहीं बहार से आने वाले छात्रों के लिए विशेष रूप से बसों और रेल में अतरिक्त व्यवस्था की गई, ताकि परिक्षार्थियों को कोई परेशानी न हो. सभी केंद्रों पर परीक्षा शांतिपूर्ण सम्पन कराई जा रही है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 23, 2017, 1:39 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...