राजस्थान में होली और शब-ए-बारात पर सार्वजनिक स्थलों पर हो सकेंगे कार्यक्रम, ये रही टाइमिंग

गृह विभाग द्वारा जारी संशोधित आदेश के अनुसार, 28 और 29 मार्च को शाम चार बजे से रात्रि 10 बजे तक सार्वजनिक स्थानों पर आयोजनों की अनुमति होगी. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

गृह विभाग द्वारा जारी संशोधित आदेश के अनुसार, 28 और 29 मार्च को शाम चार बजे से रात्रि 10 बजे तक सार्वजनिक स्थानों पर आयोजनों की अनुमति होगी. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

उल्लेखनीय है कि राजस्थान में बढ़ते कोरोना वायरस (Corona virus) संक्रमण के मद्देनजर राज्य सरकार ने 24 मार्च को एक आदेश जारी कर होली और शब-ए-बारात पर होने वाले सार्वजनिक कार्यक्रमों पर रोक लगा दी थी.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) में होली और शब-ए-बारात (Shab-e-baraat) के मौके पर 28 और 29 मार्च को शाम चार बजे से रात 10 बजे तक सार्वजनिक स्थानों पर आयोजन हो सकेंगे. राज्य सरकार ने इस बारे में संशोधित दिशा-निर्देश जारी किए हैं. गृह विभाग द्वारा जारी संशोधित आदेश के अनुसार, 28 और 29 मार्च को शाम चार बजे से रात्रि 10 बजे तक सार्वजनिक स्थानों पर आयोजनों की अनुमति होगी, जिसमें अधिकतम 50 व्यक्ति भाग ले सकेंगे. उल्लेखनीय है कि राजस्थान में बढ़ते कोरोना वायरस (Corona virus) संक्रमण के मद्देनजर राज्य सरकार ने 24 मार्च को एक आदेश जारी कर होली और शब-ए-बारात पर होने वाले सार्वजनिक कार्यक्रमों पर रोक लगा दी थी.

 देश के कई राज्यों में हालात खराब हैं

वहीं, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने कल कहा था कि कोरोना वायरस को लेकर जनता लापरवाही बरत रही है. हालातों से निपटने के लिए सरकार को सख्त कदम उठाने पड़ेंगे. हालांकि, सीएम गहलोत ने कहा कि अभी बिना लॉकडाउन के ही यह सख्ती बरती जाएगी. शनिवार को चिकित्सा शिक्षा विभाग के कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम गहलोत ने कहा कि पिछले साल 18 मार्च को कोरोना के 14 केस थे. जबकि इस बर 18 मार्च को 327 केस सामने आए. देश के कई राज्यों में हालात खराब हैं. नए स्ट्रेन सामने आ रहे हैं.

हमें बिना लॉकडाउन के बहुत सख्ती करनी पड़ेगी
सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि जनता लापरवाह हो गई है जिसकी इजाजत नहीं दी जा सकती है. उन्होंने कहा कि हमें बिना लॉकडाउन के बहुत सख्ती करनी पड़ेगी. उन्होंने कहा कि कोरोना को रोकने के लिए राज्य सरकार पहले की तरह तैयारी कर रही है. फैलने से पहले कोरोना को रोकना जरूरी है. सीएम गहलोत ने कहा कि जनता को इसमें सरकार का साथ देना होगा. कोरोना के बढते मामलों पर मुख्यमंत्री ने लोगों को फिर से लापरवाही न बरतने की हिदायत दी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज