Video : जयपुर में ताश के पत्तों की तरह ढह गया जर्जर मकान, परकोटे में बड़ा हादसा टला
Jaipur News in Hindi

Video : जयपुर में ताश के पत्तों की तरह ढह गया जर्जर मकान, परकोटे में बड़ा हादसा टला
हादसा देर रात रामगंज इलाके में कांवटियों की पीपली इलाके में चौराहे पर हुआ. यह मकान ठीक चौराहे पर बना हुआ था.

पिंकसिटी जयपुर के रामगंज इलाके में गुरुवार देर रात एक जर्जर मकान अचानक ढह गया. गनीमत ये रही कि मकान देर रात ढहा. अगर यही मकान दिन में ढहता तो कोई बड़ा हादसा हो सकता था. रात होने के कारण वहां कोई नहीं था.

  • Share this:
जयपुर. पिंकसिटी जयपुर (Jaipur) के रामगंज इलाके में गुरुवार देर रात एक जर्जर मकान अचानक ढह (House collapsed) गया. गनीमत ये रही कि मकान देर रात ढहा. अगर यही मकान दिन में ढहता तो कोई बड़ा हादसा हो सकता था. रात होने के कारण वहां कोई नहीं था. आसपास की सड़कें सूनी थी. शहर के परकोटे में ऐसे कई मकान हैं, जो पूरी तरह से जर्जर हो चुके हैं. वे कभी भी गिर सकते हैं और कोई बड़ा हादसा हो सकता है.

कांवटियों की पीपली इलाके में हुआ हादसा
जानकारी के अनुसार हादसा देर रात रामगंज इलाके में कांवटियों की पीपली इलाके में चौराहे पर हुआ। वहां बना एक मकान अचानक ढह गया. यह मकान काफी जर्जर हालत में था और पिछले लंबे समय से इसके गिरने का अंदेशा भी था. लेकिन इसके बावजूद जयपुर नगर निगम ने कोई कार्रवाई नहीं की. यह मकान ठीक चौराहे पर बना हुआ था. ऐसे में यदि दिन के समय यह मकान गिरता तो कोई बड़ा हादसा भी वहां पर हो सकता था.

Rajasthan crisis: बसपा से कांग्रेस में आये 6 विधायकों को शिफ्ट करने की सुगबुगाहट, गहलोत आज लेगें विधायक दल की बैठक




बिजली के बॉक्स पर गिरा मलबा और लाइट गुल हो गई
गुरुवार देर रात धीरे धीरे इस मकान से मलबा गिरने लगा. ऐसे में वहां आसपास के लोग इकट्ठा हो गए और उन्होंने इसका वीडियो बनाना शुरू कर दिया. शुरुआत में इस जर्जर मकान का धीरे-धीरे अलग-अलग स्थानों से मलबा गिरना शुरू हुआ. लेकिन बाद में देखते ही देखते कुछ सैकेंड्स में यह पूरा मकान ताश के पत्तों की तरह ढह गया. इसके कारण पास ही लगे बिजली के बॉक्स पर भी इसका मलबा गिरा और वहां लाइट गुल हो गई.

Rajasthan: गहलोत सरकार का बड़ा फैसला, अब वसुंधरा राजे को नहीं खाली करना होगा सरकारी बंगला

हरदम बना रहता है खतरा
जयपुर शहर की चारदीवारी इलाके में ऐसे कोई एक या दो जर्जर मकान नहीं है, बल्कि बड़ी तादाद में हैं. इनके कभी भी गिरने का अंदेशा हमेशा बना रहता है. बावजूद इसके नगर निगम प्रशासन कोई कार्रवाई नहीं करता है. फौरी तौर पर इन भवन मालिकों को नोटिस जारी कर दिए जाते हैं, लेकिन इन जर्जर भवनों को गिराने की कोई कार्रवाई नगर निगम प्रशासन की तरफ से नहीं की जाती है. ऐसे में वहां से निकलने वाले लोगों से लेकर इन जर्जर मकानों के पास रहने वाले व्यक्तियों के लिए खतरा हमेशा बना रहता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज