आवासन मंडल घटाएगा मकानों के दाम, चुनावी साल में एक तीर से दो निशाने

रियल एस्टेट में चल रही मंदी के दौर में सरकार एक तीर से दो निशाने साधने की कवायद में जुटी है. आमजन को लुभाने और अनसॉल्ड मकानों को बेचने के लिए आवासन मंडल मकानों के दामों में होने वाली सालाना बढ़ोतरी इस बार नहीं करेगा.

Lovely Wadhwa | News18 Rajasthan
Updated: September 15, 2018, 3:48 PM IST
आवासन मंडल घटाएगा मकानों के दाम, चुनावी साल में एक तीर से दो निशाने
फोटो: न्यूज18 राजस्थान
Lovely Wadhwa | News18 Rajasthan
Updated: September 15, 2018, 3:48 PM IST
अगर सबकुछ ठीकठाक रहा तो अपनी खुद की छत का सपना देख रहे लोगों के लिए चुनावी साल फायदे का सौदा रहने वाला है. रियल एस्टेट में चल रही मंदी के दौर में सरकार एक तीर से दो निशाने साधने की कवायद में जुटी है. आमजन को लुभाने और अनसॉल्ड मकानों को बेचने के लिए आवासन मंडल मकानों के दामों में होने वाली सालाना बढ़ोतरी इस बार नहीं करेगा. वहीं सरकार मंडल के सरप्लस मकान व दुकानों की कीमत को भी कम करने पर विचार कर रही है.

आवासन मंडल को दुबारा अपने पुराने अस्तित्व में लाने के लिए राज्य सरकार मशक्कत कर रही है. इसी कवायद में यूडीएच मंत्री श्रीचंद कृपलानी को मंडल अध्यक्ष पद की कमान सौंपी गई है. मंडल के आयुक्त का अतिरिक्त कार्यभार देख रहे आरयूआईडीपी के परियोजना निदेशक प्रीतम बी यशवंत भी पूरी लगन के साथ व्यवस्थाओं को पटरी पर लाने में लगे हुए हैं. इसी कड़ी में आवासन मंडल मकानों सहित अन्य संपत्तियां जनता को सस्ते दामों पर उपलब्ध कराने का मानस बना रही है ताकि संपत्तियों के बेचान के साथ ही उसका चुनावी फायदा भी लिया जा सके. मंडल इसकी योजना पर काम कर रहा है. इसको लेकर सरकार जल्द ही फैसला करने जा रही है.

इस नई कार्ययोजना पर चल रहा है काम
नई कार्ययोजना के अनुसार इस वर्ष मकानों की भूमि एवं विकास दर नहीं बढ़ाई जाएगी. मकान की लागत पर लगने वाला 12 प्रतिशत ब्याज भी नहीं लगाया जाएगा. सरप्लस 22 हजार मकानों की कीमतों में योजनावार 5 से लेकर 15 प्रतिशत तक की कमी की जाएगी. इन मकानों का बेचान ओपन कांउटर अथवा सीलबंद नीलामी से किया जाएगा. अगर ऐसा हुआ तो मकानों की कीमत में कोई बढ़ोतरी नहीं होगी और आमजन इसकी ओर आकर्षित होगा.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर